shardh 2019 Know the pitrapaksha exact date time and way to do tarpana pitrs during pitru paksha to get blessings from our Ancestors - श्राद्ध करने से पहले जान लेंगे ये 5 बातें तो पितर हो जाएंगे प्रसन्न मिलेगा आर्शीवाद DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

श्राद्ध करने से पहले जान लेंगे ये 5 बातें तो पितर हो जाएंगे प्रसन्न मिलेगा आर्शीवाद

shardh 2019

Shardh 2019 or Pitrapaksha- हिंदू धर्म में पितृपक्ष या श्राद्ध का अपना एक अलग महत्व बताया गया है। इस साल श्राद्ध 13 सितंबर से शुरु होकर 28 सितंबर तक रहेंगे। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार पितृपक्ष के दौरान यदि कोई व्यक्ति अपनी श्रद्धा-भक्ति से पितरों को प्रसन्न कर लेता है तो उसके सभी दुख-दरिद्र दूर होकर उसके घर में हमेशा सुख-शांति बनी रहती है। तो आइए जानते हैं आखिर कौन से वो खास उपाय हैं जिन्हें करने से हमारे पूर्वज शीघ्र ही प्रसन्न हो जाते हैं।

Pitru Dosh 2019: जानें क्या होता है पितृदोष, ऐसे करें पहचान और बचाव के उपाय

पूजा-पाठ से करें दिन की शुरुआत-
अपने दिन की शुरुआत करने से पहले अपने पूर्वजों की तस्वीर के आगे धूप-बत्ती और फूल-माला चढ़ाकर उनका आर्शीवाद ले लें। ऐसा करने से कहा जाता है कि पूर्वज प्रसन्न होकर व्यक्ति को सुखी जीवन का आशीष देते हैं। 

पितरों के जन्मदिन और बरसी को याद रखें-
माता-पित से बड़ी कोई दौलत नहीं होती है। उनके जन्मदिन और बरसी को हमेशा याद रखें। इन दोनों दिनों में उन्हें याद करते हुए गरीब लोगों को भोजन या वस्त्र बांटें। आपके परिवार पर उनकी कृपा हमेशा बनी रहेगी। 

प्‍याऊ लगवाएं-
अपने पितरों को प्रसन्‍न करने के लिए आप उन्हें याद करते हुए उनके नाम का प्‍याऊ लगवाएं या कोई चबूतरा बनवा दें। ऐसे करने से आपके पूर्वजों को प्रसन्नता होगी। 

दान करें-
अपने पूर्वजों को याद करने के लिए श्राद्ध का इंतजार न करें। समय-समय पर उन्हें याद करते हुए धन या वस्त्रों का दान करते रहें। ऐसा करने से आपके पितरों को शांति मिलती है और वो आप पर प्रसन्न बने रहते हैं।  

ये भी पढ़ें- श्राद्ध करने से पहले जान लेंगे ये 5 बातें तो पितर हो जाएंगे प्रसन्न मिलेगा आर्शीवाद

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:shardh 2019 Know the pitrapaksha exact date time and way to do tarpana pitrs during pitru paksha to get blessings from our Ancestors