DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शरद पूर्णिमा 2018: करें ये 4 काम, घर पर होगी धन की बरसात

शरद पूर्णिमा

sharad purnima 2018: इस बार शरद पूर्णिमा के लिए पूर्णिमा तिथि की शुरुआत 23 अक्टूबर को रात 10:36 पर होगी। वहीं पूर्णिमा तिथि का समापन 24 अक्टूबर रात 10:14 पर होगा। पूर्णिमा की पूजा, व्रत और स्नान बुधवार यानी 24 अक्टूबर को ही होगा। ऐसी धारणा है कि शरद पूर्णिमा की रात चंद्रमा सोलह कलाओं से युक्त होता है। चांद अपनी पूरी सोलह कलाओं का प्रदर्शन करते हुए दिखाई देता है। शरद पूर्णिमा को कोजागर पूर्णिमा या कोजागरी के नाम से भी जाना जाता है। ऐसी मान्याता है कि इस रात को मां लक्ष्मी स्वर्ग लोक से पृथ्वी पर प्रकट होती हैं। इस रात जो मां लक्ष्मी को जो भी व्यक्ति पूजा करता हुआ दिखाई देता है। मां उस पर कृपा बरसाती हैं। 

पढ़ें, शरद पूर्णिमा पर पूजा करने से क्या होता है लाभ -

1. शरद पूर्णिमा की रात जब चारों तरफ चांद की रोशनी बिखरती है उस समय मां लक्ष्मी की पूरा करने आपको धन का लाभ होगा।

2. मां लक्ष्मी को सुपारी बहुत पसंद है। सुपारी का इस्तेमाल पूजा में करें। पूजा के बाद सुपारी पर लाल धागा लपेटकर उसको अक्षत, कुमकुम, पुष्प आदि से पूजन करके उसे तिजोरी में रखने से आपको धन की कभी कमी नहीं होगी। 

3. शरद पूर्णिमा की रात भगवान शिव को खीर का भोग लगाएं। खीर को पूर्णिमा वाली रात छत पर रखें। भोग लगाने के बाद उस खीर का प्रसाद ग्रहण करें। उस उपाय से भी आपको कभी पैसे की कमी नहीं होगी।

4. शरद पूर्णिमा की रात को हनुमान जी के सामने चौमुखा दीपक जलाएं। इससे आपके घर में सुख शांति बनी रहेगी।

ये जानकारियां धार्मिक आस्थाओं और लौकिक मान्यताओं  पर आधारित हैं, जिसे मात्र सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर प्रस्तुत किया  गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:sharad purnima 2018: do this 5 things to impress Goddess Lakshmi