ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News AstrologyShani Sade Sati Kumbh Rashi Second Phase on Sade Sati is going on Aquarius know effect

कुंभ राशि पर चल रहा शनि की साढ़ेसाती का दूसरा चरण, जानें कब मिलेगी शनि प्रकोप से मुक्ति और इस चरण का प्रभाव

Shani Sade Sati Kumbh Rashi: शनि की साढ़ेसाती का दूसरा चरण कुंभ राशि वालों पर चल रहा है। शनि की साढ़ेसाती के कितने चरण होते हैं व किस तरह का प्रभाव होता है। जानें यहां-

कुंभ राशि पर चल रहा शनि की साढ़ेसाती का दूसरा चरण, जानें कब मिलेगी शनि प्रकोप से मुक्ति और इस चरण का प्रभाव
Saumya Tiwariलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSun, 03 Dec 2023 05:29 AM
ऐप पर पढ़ें

 Kumbh Rashi Shani Sade Sati: ज्योतिष शास्त्र में शनि ग्रह को न्यायदेवता व कर्मफलदाता माना गया है। शनि हर ढाई साल में राशि परिवर्तन करते हैं। शनि के राशि बदलते ही कुछ राशियों पर शनि की साढ़ेसाती का प्रभाव शुरू हो जाता है। शनि की साढ़ेसाती का प्रभाव जातक के कर्म के आधार पर अच्छा या बुरा हो सकता है। वर्तमान में कुंभ, मीन व मकर राशि वालों पर शनि की साढ़ेसाती का प्रभाव है। कुंभ राशि वालों पर शनि की साढ़ेसाती का दूसरा चरण चल रहा है। जानें कब मिलेगी शनि प्रकोप से कुंभ राशि वालों को मुक्ति व साढ़ेसाती का प्रभाव-

कुंभ राशि वालों पर शनि की साढ़ेसाती 24 जनवरी 2020 से प्रारंभ हुई थी। कुंभ राशि वालों को शनि की महादशा से 3 जून 2027 को मुक्ति मिल जाएगी, लेकिन शनि की साढ़ेसाती से कुंभ राशि वालों को 23 फरवरी 2028 को शनि के मार्गी होने पर ही छुटकारा मिलेगा। इस तरह से कुंभ राशि वालों को 23 फरवरी 2028 को शनि की साढ़ेसाती के प्रभाव से मुक्ति मिल जाएगी।

30 नवंबर को शुक्र का तुला राशि में गोचर: शनि की साढ़ेसाती से पीड़ित 3 राशियां हो जाएंगी मालामाल

वर्तमान में कुंभ राशि वालों पर शनि की साढ़ेसाती का चल रहा दूसरा चरण- शनि की साढ़ेसाती को कष्टकारी माना गया है। दूसरे चरण के दौरान जातक को मानसिक, शारीरिक व आर्थिक कष्टों का सामना करना पड़ता है। इस अवधि में रिश्तों में उतार-चढ़ाव बढ़ जाता है। सेहत का खास ध्यान रखना पड़ता है।

शनि की साढ़ेसाती के होते हैं तीन चरण- शनि की साढ़ेसाती तीन चरण की होती है। वर्तमान में मीन राशि वालों पर पहला चरण, कुंभ राशि वालों पर दूसरा और मकर राशि वालों पर तीसरा चरण चल रहा है। जबकि कर्क व वृश्चिक राशि वालों पर शनि ढैय्या का प्रभाव है। शनि ढैय्या ढाई साल की होती है।

शनि उपाय- शनि ग्रह को प्रसन्न करने के लिए शनिवार को किसी शनि मंदिर जाकर शनि दर्शन दर्शन करने चाहिए। पीपल के पेड़ के नीचे सरसों के तेल का दीपक जलाने से भी शनिदेव प्रसन्न होते हैं।

दिसंबर का महीना इन 5 राशि वालों के जीवन में लाएगा खुशियां ही खुशियां, जानें सभी 12 राशियों का हाल

इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य एवं सटीक हैं। इन्हें अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें