DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   धर्म  ›  Sawan Month 2021 Start Date : इस साल कब से शुरू होगा सावन का महीना? जानें डेट, महत्व और पूजा-विधि
पंचांग-पुराण

Sawan Month 2021 Start Date : इस साल कब से शुरू होगा सावन का महीना? जानें डेट, महत्व और पूजा-विधि

लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीPublished By: Yogesh Joshi
Fri, 25 Jun 2021 05:32 PM
Sawan Month 2021 Start Date : इस साल कब से शुरू होगा सावन का महीना? जानें डेट, महत्व और पूजा-विधि

Sawan Month 2021 Start Date : हिंदू धर्म में सावन के महीने का बहुत अधिक महत्व होता है। सावन का महीना हिंदू पंचांग का पांचवा महीना होता है। यह महीना भगवान शिव को समर्पित होता है। इस महीने में भगवान शिव की विधि- विधान से पूजा- अर्चना करनी चाहिए। सावन के महीने के सोमवार का महत्व और भी अधिक होता है। इस माह में शिव की पूजा- अर्चना करने से सभी मनोकामनाएं पूरी हो जाती हैं।

कब से शुरू हो रहा है सावन का महीना...

  • इस साल 25 जुलाई से सावन का महीना शुरू हो जाएगा। 25 जुलाई से 22 अगस्त तक सावन का महीना चलेगा।

सावन सोमवार लिस्ट

  • पहला सोमवार-  26 जुलाई 
  • दूसरा सोमवार- 02 अगस्त    
  • तीसरा सोमवार-  09 अगस्त    
  • चौथा सोमवार- 16 अगस्त    

इन राशियों वाली लड़कियां होती हैं अपने पति के लकी, लक्ष्मी की तरह करती हैं जीवन में प्रवेश

सावन के महीने का महत्व

  • सावन के महीने का बहुत अधिक महत्व होता है। 
  • इस महीने में भगवान शिव की पूजा करने से सभी मनोकामनाएं पूरी हो जाती हैं। 
  • इस माह में किए गए सोमवार के व्रत का फल बहुत जल्दी मिलता है।
  • जिन लोगों के विवाह में परेशानियां आ रही हैं उन्हें सावन के महीने में भगवान शंकर की विशेष पूजा करनी चाहिए। भगवान शिव की कृपा से विवाह संबंधित समस्याएं दूर हो जाती हैं। 
  • इस माह में शिव की पूजा करने से सभी तरह के पापों से मुक्ति मिल जाती है और मृत्यु के पश्चात मोक्ष की प्राप्ति होती है। 

इस नक्षत्र में जन्मे लोग होते हैं निडर और भाग्यशाली, परिवार का रोशन करते हैं नाम

सावन महीने पूजा- विधि

  • सुबह जल्दी उठ जाएं और स्नान आदि से निवृत्त होने के बाद साफ वस्त्र धारण करें।
  • घर के मंदिर में दीप प्रज्वलित करें।
  • सभी देवी- देवताओं का गंगा जल से अभिषेक करें।
  • शिवलिंग में गंगा जल और दूध चढ़ाएं।
  • भगवान शिव को पुष्प अर्पित करें।
  • भगवान शिव को बेल पत्र अर्पित करें।
  • भगवान शिव की आरती करें और भोग भी लगाएं। इस बात का ध्यान रखें कि भगवान को सिर्फ सात्विक चीजों का भोग लगाया जाता है। 
  • भगवान शिव का अधिक से अधिक ध्यान करें।

Shani Sade Sati And Dhaiya : मीन, कर्क और वृश्चिक राशि पर शुरू होने वाली है शनि की महादशा, रहें सर्तक

पण्डित शक्तिधर त्रिपाठी (शक्ति ज्योतिष केन्द्र लखनऊ) से जानिए यह श्रावण क्यों होगा खास?

  • इस वर्ष मात्र 29 दिनों का ही श्रावण होगा। 25 जुलाई रविवार से 22 अगस्त रविवार तक सावन रहेगा। शुक्ल पक्ष में कुल 14 दिन होंगे। नवमी तिथि की हानि हो रही है, जिसके परिणामस्वरूप भारत के किसी राज्य में सत्ता परिवर्तन का पूर्ण योग बन रहा है।

   दोनों पक्षों में दो-दो सोमवार होंगे 

  • कृष्ण पक्ष में द्वितीया की हानि होने से अशून्य शयन व्रत रविवार 25 जुलाई को ही रहा जाएगा। सुखी दाम्पत्य जीवन के लिए इस व्रत में श्री लक्ष्मी जी को श्री विष्णु जी के गोद में शयन कराके दोनों की पूजा शाम को करने का विधान है। श्रावण शुक्ल पक्ष सप्तमी को स्वाति नक्षत्र रहने से अन्न सस्ता होगा और उपज अच्छी होने का संकेत है। सावन की पूर्णिमा का व्रत शनिवार 21 अगस्त को रहा जाएगा ।रविवार 22 अगस्त को रक्षाबन्धन तथा ब्राह्मणों का वार्षिक पर्व श्रावणी मनाया जाएगा। 

संबंधित खबरें