DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सावन 2019: सावन में रखा जाता है मंगला गौरी का व्रत, पूरी होती है मनोकामना

shiv bhagwan maa gauri

सावन की शुरुआत हो चुकी है। इस माह का पहला सोमवार 22 जुलाई को है। सावन के पहले सोमवार को भगवान शिव की विशेष रूप से पूजा की जाएगी। भक्तगण शिव की पूजा की तैयार में पहले से ही जुट जाते हैं। इस दिन व्रत भी रखा जाता है। मान्यता है कि सावन में व्रत रखने वालों को ज्यादा लाभदायक होता है। भगवान शिव को भी यह महीना प्रिय है। आइए जानते हैं सावन से जुड़ी खास बातें...

भोलेनाथ को प्रिय सावन महीने की शुरुआत 17 जुलाई से हुई थी, जो कि 15 अगस्त को खत्म होगा। इसका पहला सोमवार 22 जुलाई को है। जबकि दूसरा सोमवार 29 जुलाई, तीसरा सोमवार 5 अगस्त और चौथा व सावन का सोमवार 12 अगस्त है। इन दिनों में शिव शंकर के लिए व्रत रखने वालों भक्तों की मनोकामना पूरी होती है। अहम बात यह भी है कि कई लोग सावन के पहले सोमवार से ही 16 सोमवार व्रत की शुरुआत करते हैं।

Read Also : सावन विशेष: मोटे महादेवन मंदिर में भक्तों को मिलती है पूजी हुई मूर्ति

सावन महीने की एक खास बात यह भी है कि इसमें मंगलवार का व्रत भगवान शिव की पत्नी देवी पार्वती के लिए किया जाता है। सावन में किए जाने वाले मंगलवार व्रत को मंगला गौरी व्रत कहा जाता है। यह दिन शिव भक्तों के लिए विशेष होता है। मंगला गौरी की पूजा करने से महिलाओं को अखंड सौभाग्य का आशीर्वाद मिलता है। पति को लंबी उम्र और संतान सुख की प्राप्ति होती है। दाम्पत्य जीवन में समस्या का सामना करने वाले भक्त सोमवार व्रत के साथ ही मंगला गौरी व्रत रख सकते हैं। उनके जीवन में सुख और शांति आएगी।

 

इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य व सटीक हैं। तथा इन्हें अपनाने से अपेक्षित परिणाम मिलेगा। ये मान्यताओं  पर आधारित हैं। इन्हें अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Sawan 2019 mangla gauri vrat fast tuesday shiv bhagwan maa gauri
Astro Buddy