sankashti chaturthi today know puja vidhi and moon rise time here - संकष्टी चतुर्थी आज: इस विधि से करें पूजा-पाठ और जानें किस समय निकलेगा चंद्रमा DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

संकष्टी चतुर्थी आज: इस विधि से करें पूजा-पाठ और जानें किस समय निकलेगा चंद्रमा

ganesh ji

प्रत्येक मास की कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को भगवान श्रीगणेश की पूजा कर व्रत किया जाता है। इस मास की चतुर्थी आज यानि 22 फरवरी को है। मान्यता है कि चतुर्थी को व्रत करने से एकदंत की विशेष कृपा प्राप्त होती है और सभी कार्य मंगलमय हो जाते हैं। आइए मासिक गणेश चतुर्थी की पूजा-विधि जानते हैं। आज चंद्रमा रात 9 बजकर 24 मिनट पर उदय होगा।

sankashti chaturthi 2019: गणेश चतुर्थी आज, जानें चंद्रोदय का समय

1. गणेश चतुर्थी की सुबह जल्दी उठकर स्नान आदि करने के बाद अपनी इच्छानुसार सोने, चांदी, तांबे, पीतल या मिट्टी से बनी भगवान गणेश की प्रतिमा स्थापित करें।

2. संकल्प मंत्र के बाद भगवान गणेश को सिंदूर, फूल, चावल आदि चीजें चढ़ाएं। गणेश मंत्र (ऊं गं गणपतयै नम:) बोलते हुए दूर्वा चढ़ाएं। गुड़ या बूंदी के 21 लड्डुओं का भोग लगाएं।

3. 5 लड्डू मूर्ति के पास रख दें तथा 5 ब्राह्मण को दान कर दें। शेष लड्डू प्रसाद के रूप में बांट दें। पूजा के बाद श्रीगणेश स्त्रोत, अथर्वशीर्ष, संकटनाशक स्त्रोत आदि का पाठ करें।

4. इसके बाद ब्राह्मणों को भोजन कराएं और उन्हें दक्षिणा देने के बाद शाम को चंद्रमा निकलने के बाद स्वयं भोजन करें। संभव हो तो उपवास करें।

5. इस व्रत का आस्था और श्रद्धा से पालन करने पर भगवान श्रीगणेश की कृपा से मनोरथ पूरे होते हैं और जीवन में निरंतर सफलता प्राप्त होती है।

आज है गणेश चतुर्थी व्रत, भगवान गणेश की होती है पूजा, जानें पूरे साल के गणेश चतुर्थी व्रत

(इस आलेख में दी गई जानकारियां धार्मिक आस्थाओं और लौकिक मान्यताओं पर आधारित हैं, जिसे मात्र सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर प्रस्तुत किया गया है।)

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:sankashti chaturthi today know puja vidhi and moon rise time here