DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

संकष्टी चतुर्थी: श्रीगणेश के 108 नामों का जाप करना होता है शुभ, जानें किस समय निकलेगा चांद

lord ganesh, sankashti chaturthi vrat puja timing

प्रत्येक मास की कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को भगवान श्रीगणेश की पूजा कर व्रत किया जाता है। इस मास की चतुर्थी आज यानि 22 अप्रैल को है। मान्यता है कि चतुर्थी को व्रत करने से एकदंत की विशेष कृपा प्राप्त होती है और सभी कार्य मंगलमय हो जाते हैं और रात को चांद के उदय के साथ उसे जल चढ़ाया जाता है।

चंद्रोदय का समयः रात 9 बजकर 54 मिनट

23 अप्रैल से गुरु की उल्टी चाल होगी शुरू, जानें आपके ऊपर क्या होगा असर

संकष्टी चतुर्थी के दिन भक्तगण श्री गणेश के 108 नामों का पाठ कर सकते हैं, जिससे गजानन प्रसन्न होते हैं और सुख-संपत्ति के भंडार भरते हैं। आइए जानते हैं नाम...

1) बालगणपति.
2) भालचन्द्र.
3) बुद्धिनाथ.
4) धूम्रवर्ण.
5) एकाक्षर.
6) एकदंत.
7) गजकर्ण.
8) गजानन.
9) गजनान.
10) गजवक्र.
11) गजवक्त्र.
12) गणाध्यक्ष.
13) गणपति.
14) गौरीसुत.
15) लंबकर्ण.
16) लंबोदर.
17) महाबल.
18) महागणपति.
19) महेश्वर.
20) मंगलमूर्ति.
21) मूषकवाहन.
22) निदीश्वरम.
23) प्रथमेश्वर.
24) शूपकर्ण.
25) शुभम.
26) सिद्धिदाता.
27) सिद्धिविनायक.
28) सुरेश्वरम.
29) वक्रतुंड.
30) अखूरथ.
31) अलंपत.
32) अमित.
33) अनंतचिदरुपम.
34) अवनीश.
35) अविघ्न.
36) भीम.
37) भूपति.
38) भुवनपति.
39) बुद्धिप्रिय.
40) बुद्धिविधाता.
41) चतुर्भुज.
42) देवदेव.
43) देवांतकनाशकारी.
44) देवव्रत.
45) देवेन्द्राशिक.
46) धार्मिक.
47) दूर्जा.
48) द्वैमातुर.
49) एकदंष्ट्र.
50) ईशानपुत्र.
51) गदाधर.
52) गणाध्यक्षिण.
53) गुणिन.
54) हरिद्र.
55) हेरंब.
56) कपिल.
57) कवीश.
58) कीर्ति.
9) कृपाकर.
60) कृष्णपिंगाक्ष.
61) क्षेमंकरी.
62) क्षिप्रा.
63) मनोमय.
64) मृत्युंजय.
65) मूढ़ाकरम.
66) मुक्तिदायी.
67) नादप्रतिष्ठित.
68) नमस्तेतु.
69) नंदन.
70) पाषिण.
71) पीतांबर.
72) प्रमोद.
73) पुरुष.
74) रक्त.
75) रुद्रप्रिय.
76) सर्वदेवात्मन.
77) सर्वसिद्धांत.
78) सर्वात्मन.
79) शांभवी.
80) शशिवर्णम.
81) शुभगुणकानन.
82) श्वेता.
83) सिद्धिप्रिय.
84) स्कंदपूर्वज.
85) सुमुख.
86) स्वरुप.
87) तरुण.
88) उद्दण्ड.
89) उमापुत्र.
90) वरगणपति.
91) वरप्रद.
92) वरदविनायक.
93) वीरगणपति.
94) विद्यावारिधि.
95) विघ्नहर.
96) विघ्नहर्ता.
97) विघ्नविनाशन.
98) विघ्नराज.
99) विघ्नराजेन्द्र.
100) विघ्नविनाशाय.
101) विघ्नेश्वर.
102) विकट.
103) विनायक.
104) विश्वमुख.
105) यज्ञकाय.
106) यशस्कर.
107) यशस्विन.
108) योगाधिप

दक्षिण अफ्रीकी सिंगर ने 6 अलग-अलग धुनों पर गाई हनुमान चालीसा

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:sankashti chaturthi 2019 today chant 108 names of lord ganesh know moon rise time today