अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बड़ा मत बनने दो बुराइयों का पेड़

कुछ समय पहले की बात है एक बहुत ही धनी आदमी था , उसका एक ही बेटा था और उसके बेटे की बहुत सारी आदते बहुत ही बुरी थीं। जब भी उसका पिता अपने बेटे को बुरी आदत छोड़ने को बोलता तो बस वह एक ही जवाब देता - अभी तो मे छोटा हूं।  बड़ा होने पर छोड़ दूंगा। कुछ दिन बाद उनके नगर मे एक पहुंचे हुए महात्मा जी आये। बेटे की आदतों से परेशान पिता को पता चला तो वह महात्मा जी के पास गया और उनको अपने बेटे के बुरी आदतों के बारे मे सब कुछ साफ़ – साफ़ बता दिया | महात्मा जी ने बोला – आप कल सुबह मे अपने बेटे को मैरे पास लेकर आएं।

अगले ही दिन सुबह ही पिता अपने बेटे को लेकर महात्मा जी उसके के पास पहुंच गया | महात्मा जी उसको लेकर बगीचे मे चले गए और रास्ते मे चलते-चलते एक छोटा सा पौधा पड़ा। महात्मा जी ने उस लड़के से उसको उखाड़ने को कहा – लड़का तुरंत गया और पौधे को उखाड़ कर फेंक दिया | थोड़ी दूर और जाने पर एक छोटा पेड़ पड़ा,  महत्मा जी ने उसको भी उखाड़ कर फेंकने को कहा – उसने उसको भी उखाड़ दिया| 

लड़के के पिता जी यह सब कुछ बहुत ही ध्यान से देख रहे थे | कुछ दूर और चलने के बाद एक बड़ा और मजबूत सा पेड़ दिखाई दिया। महात्मा जी ने लड़के से कहा – इसको भी उखाड़ दो। वह बहुत ही तेजी से गया, लेकिन बहुत कोशिश करने के बाद भी वह उस पेड़ को उखाड़ नहीं पाया, क्योकि वह बहुत मजबूत हो गया था | फिर महत्मा जी ने उस लड़के को बुलाया और समझाकर बोला जिस तरह तुम इस बड़े पेड़ को नहीं उखाड़ पा रहे हो  उसी तरह तुम अपनी बुरी आदतों को बड़े होने पर नहीं बदल सकते क्योंकि उसकी जड़े बहुत मजबूत हो जाती हैं। अगर तुम्हे अपनी बुरी आदते छोड़नी हैं तो बचपन में ही छोड़नी होंगी। जिस तरह तुमने छोटे पेड़ के पौधो को तुरंत उखाड़ दिया उसी तरह तुम अपनी बुरी आदतें भी शुरुआती समय में आसानी से छोड़ सकते हो। जैसे-जैसे वक्त बीतेगा, वैसे वैसे उसकी जड़ें मजबूत होती जाएंगी और उसे उखाड़ना मुश्किल होता जाएगा। लड़का महात्मा की इस बात को समझ गया और अपनी सारी बुरी आदत छोड़ने की कसम खा ली  |

कहानी से साफ है कि अगर हम हमारी बुरी आदतें बचपन में ही नहीं छोड़ते है तो वाही आदते बड़े होकर हमारे लिए नासूर की तरह बन जाती है। इसका नकारात्मक  असर हमारे पूरे व्यक्तित्व पर पड़ने लगता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Remove such filthy habits