DA Image
22 सितम्बर, 2020|11:24|IST

अगली स्टोरी

Rahu-Ketu Rashi Parivartan 2020 : कल से 18 माह के लिए राशि बदलेंगे राहु और केतु, 4 राशियों को मिलेगा लाभ

rahu ketu transit effects in 4 zodiacs on 23 september 2020

पाप ग्रह राहु-केतु 18 माह बाद कल 23 सितंबर 2020 को राशि परिवर्तन करेंगे। यह राशि परिवर्तन अगले 18 माह के लिए होगा। राहु मिथुन राशि से वृषभ में और केतु धनु राशि से वृश्चिक में गोचर करेंगे। जोतिष के जानकारों के अनुसार राहु-केतु का यह राशि परिवर्तन चीन के साथ तनाव बढ़ाने के साथ कई राशियों के जीवन में अमूल-चूल परिवर्तन लाने वाला होगा। ज्योतिष में राहु-केतु को छाया ग्रह के तौर पर माना गया है कि लेकिन यदि यह बिगड़ जाए तो जीवन को ऊथल-पुथल से भर देता है। कृपा बरसाने पर आएं तो भिखारी को भी राजा बना देते हैं।

ज्योतिष शास्त्रियों के अनुसार, किसी ग्रह का राशि परिवर्तन विभिन्न राशि के लोगों पर अलग-अलग असर डालता है। राहु-केतु के इस राशि परिवर्तन से कुछ राशियों के जातकों को मुसीबतों में डाल सकता है तो कुछ राशियों के जातकों के लिए मालमाल करने वाला साबित होगा।


इन 4 राशियों को मिलेगा लाभ-
जानकारों के अनुसार, राहु-केतु के राशि परिवर्तन से 1- मेष, 2- कर्क, 3- सिंह और 4- वृश्चिक राशियों के जातकों को सकारात्मक असर पड़ेगा। यानी इस राशि के लोगों की दिन-दूनी रात-चौगुनी तरक्की के संकेत हैं। इन चार राशियों के लिए यह राशि परिवर्तन हर प्रकार से लाभदायी साबित होगा। इनके अलावा शेष राशियों को प्रतिकूल परिस्थितियों का सामना करना पड़ सकता है।


मेष:

आपके लिए राहु का गोचर शुभ परिणामकारी रहेगा। कई क्षेत्रों में आपको शानदार परिणाम मिलने की संभावना है। इसके प्रभाव से आपके साहस में वृद्धि होगी लेकिन वैवाहिक जीवन में आप असमंजस की स्थिति में रहेंगे। धन भाव में राहु का आगमन आपके लिए बेहतरीन सफलता दिलाएगा। 

कर्क:

आपकी राशि से लाभ भाव में राहु का गोचर आपके लिए किसी वरदान से कम नहीं है। इस स्थान पर गोचर करते हुए राहु जातक की सभी समस्याओं का निराकरण करते हैं और विषम परिस्थितियों से निकालकर उसे सफलता के सर्वोच्च शिखर पर पहुंचाते हैं। अन्य ग्रहों की भी गोचर स्थितियां आपकी सफलता के अच्छे संकेत दे रही हैं। 


सिंह:

आपकी राशि से दशम भाव में राहु का गोचर आपको कुल दीपक बनाएगा। छोटे स्तर से भी कार्य करके आप सफलता की ऊंचाई पर पहुंचेंगे। इस स्थान पर राहु राजनीति के लिए सर्वश्रेष्ठ माने गए हैं इसलिए शासन सत्ता का पूर्ण सुख मिलेगा वरिष्ठ सदस्यों से संबंध बनाए रखेंगे तो कठिनाइयां स्वतः ही दूर होती जाएंगी। 


वृश्चिक:

आपकी राशि से सप्तम भाव में राहु का गोचर आपके लिए कई तरह की सफलताओं के द्वार खोलेगा। प्रतीक्षित पड़े कार्यों का निपटारा होगा। शासन सत्ता का भी पूर्ण सुख मिलेगा। अधिकारियों से मधुर संबंध बनेंगे। शिक्षा प्रतियोगिता में शामिल होने वाले प्रतियोगियो के लिए अनुकूल रहेगा।

Rahu -Ketu Transit 2020 Timing:
राहु 23 सितंबर 2020 को सुबह 5:28 बजे मिथुन राशि से वृषभ राशि में प्रवेश करेगा। यहां 12 अप्रैल 2022 तक राहु विराजमान रहेगा। वहीं केतु 23 सितंबर 2020 सुबह 7:38 बजे धनु से वृश्चिक राशि में प्रवेश करेगा जो कि 12 अप्रैल 2022 तक रहेगा।

राहु-केतु का यह राशि परिवर्तन को साल की सबसे बड़ी ज्योतिषीय घटनाओं में से एक माना जा रहा है। ऊपर बताई चार राशियों के अलावा अन्य पर इस राशि परिवर्तन का प्रतिकूल या उदासीन असर रहेगा। चूंकि यह छाया ग्रह है इसलिए इससे किसी को भी घबराने की जरूरत नहीं है।
 

ध्यान दें- इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य व सटीक हैं तथा इन्हें अपनाने से अपेक्षित परिणाम मिलेगा। इन्हें अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Rahu-Ketu Rashi Parivartan 2020: Rahu and Ketu will change zodiac for 18 months from tomorrow 4 zodiac signs will get benefit