ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News AstrologyPurnima When is the full moon in February Note down the correct date auspicious time and method of worship today itself

Full Moon: फरवरी में पूर्णिमा कब है? आज ही नोट कर लें सही डेट, शुभ मुहूर्त और पूजन-विधि

Full Moon in February: फरवरी की पहली पूर्णिमा पर भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी की आराधना की जाएगी। इस दिन लक्ष्मी नारायण की विधिवत पूजा करने से घर में सुख-संपत्ति और खुशहाली बनी रहती है।

Full Moon: फरवरी में पूर्णिमा कब है? आज ही नोट कर लें सही डेट, शुभ मुहूर्त और पूजन-विधि
Shrishti Chaubeyलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSat, 24 Feb 2024 06:07 AM
ऐप पर पढ़ें

February Purnima: ज्योतिष विद्या में माघ पूर्णिमा विशेष महत्व रखती है। माघ पूर्णिमा के दिन विष्णु भगवान और माता लक्ष्मी की आराधना की जाएगी। पूर्णिमा तिथि पर चंद्रमा को अर्घ्य देना बेहद ही शुभ माना जाता है। मान्यता है फरवरी की पहली पूर्णिमा पर भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी की एक साथ पूरी श्रद्धा के साथ उपासना करने से सुख-समृद्धि और शांति बनी रहती है। इसलिए आइए जानते हैं माघ पूर्णिमा पूजन विधि, डेट और शुभ मुहूर्त-

फरवरी की पहली पूर्णिमा कब?
फरवरी में माघ महीने की शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि के दिन ही पूर्णिमा का व्रत रखा जाएगा। वहीं, 23 फरवरी, शुक्रवार के दिन दोपहर 03 बजकर 33 मिनट से पूर्णिमा तिथि की शुरुआत होगी, जो शनिवार, 24 फरवरी के दिन शाम 05 बजकर 59 मिनट तक रहने वाली है। उदयातिथि के अनुसार, फरवरी की पहली पूर्णिमा यानि माघ पूर्णिमा 24 फरवरी को मान्य होगी और इसी दिन पूर्णिमा व्रत और दान-स्नान किया जाएगा। 

माघ पूर्णिमा पूजा-विधि
माघ पूर्णिमा के दिन पूरे विधि-विधान से लक्ष्मी नारायण की साथ में पूजा करनी चाहिए। इस दिन विष्णु भगवान को पीले रंग के फल, फूल और वस्त्र चढ़ाने चाहिए और लक्ष्मी माता को गुलाबी या लाल रंग के फूल और श्रृंगार का सामान चढ़ाना चाहिए। वहीं, माघ पूर्णिमा के दिन सत्यनारायण की कथा पढ़ना पुण्यदायक माना जाता है। माघ पूर्णिमा तिथि के दिन ब्रह्म मुहूर्त में नदी में स्नान करने का विशेष महत्व माना जाता है। वहीं, अगर आप नदी में स्नान नहीं कर सकते तो नहाने के पानी में गंगाजल मिलाकर घर में ही स्नान करें। माघ पूर्णिमा का व्रत रखने और इस दिन लक्ष्मी नारायण की विधिवत पूजा करने से घर में सुख-संपत्ति और खुशहाली बनी रहती है।

माघ पूर्णिमा शुभ मुहूर्त 
ब्रह्म मुहूर्त- 04:55 ए एम से 05:46 ए एम
प्रातः सन्ध्या- 05:20 ए एम से 06:36 ए एम
अभिजित मुहूर्त- 11:57 ए एम से 12:43 पी एम
विजय मुहूर्त- 02:14 पी एम से 03:00 पी एम
गोधूलि मुहूर्त- 06:01 पी एम से 06:27 पी एम
सायाह्न सन्ध्या- 06:04 पी एम से 07:19 पी एम
अमृत काल- 07:39 पी एम से 09:27 पी एम
निशिता मुहूर्त- 11:54 पी एम से 12:44 ए एम, फरवरी 25

डिस्क्लेमर: इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य एवं सटीक हैं। विस्तृत और अधिक जानकारी के लिए संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें