ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News AstrologyPradosh Libra Aquarius Aries and Leo should do special Upay in evening on Budh Pradosh luck will be bright

मेष, तुला, कुंभ, सिंह वाले प्रदोष पर शाम में करें खास उपाय, रौशन होगा भाग्य

Pradosh Vrat Upay: प्रदोष व्रत रखने और प्रदोष काल में शिव की विधिवत आराधना करने से मनोकामना पूर्ति का वरदान मिलस्त है। इसलिए शिव कृपा पाने के लिए राशि अनुसार करें ये चमत्कारी उपाय।

मेष, तुला, कुंभ, सिंह वाले प्रदोष पर शाम में करें खास उपाय, रौशन होगा भाग्य
Shrishti Chaubeyलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 07 Feb 2024 08:03 PM
ऐप पर पढ़ें

Pradosh Ke Upay: आज रखा जाएगा फरवरी का पहला प्रदोष व्रत। प्रदोष का व्रत भगवान शिव को समर्पित है, जिसकी पूजा संध्या के समय प्रदोष काल में की जाती है। प्रदोष व्रत रखने और प्रदोष काल में शिव की विधिवत आराधना करने से मन मांगी मुराद पूरी हो सकती है। इसलिए शिव जी का आशीर्वाद पाने के लिए आज बुध प्रदोष के दिन शाम के शुभ मुहूर्त में जरूर करें अपनी राशि अनुसार ये उपाय-

1 साल बाद कुंभ राशि में होगा सूर्य गोचर, 30 दिनों तक इन राशियों की चमकेगी किस्मत

बुध प्रदोष के उपाय 

मेष राशि- भगवान शिव का अभिषेक करें। 

वृषभ राशि- इस राशि के लोग भगवान शिव को सफेद फूल अर्पित करें।

मिथुन राशि- शिव जी की कृपा पाने के लिए शिवलिंग पर बेलपत्र चढ़ाएं।

कर्क राशि- भोलेनाथ को खुश करने के लिए कनेर के फूल अर्पित करें।

सिंह राशि- सिंह राशि के लोग भोलेनाथ का आशीर्वाद पाने के लिए भांग का भोग लगाएं।

कन्या राशि- भगवान शिव को खुश करने के लिए शिवलिंग पर धतूरा चढ़ाएं।

आज है बुध प्रदोष व्रत, इस विधि से करें शिव-पूजा, जानें संध्या पूजा मुहूर्त और उपाय

तुला राशि- तुला राशि वाले पंचामृत से भगवान शिव का अभिषेक करें।

वृश्चिक राशि- वृश्चिक राशि वालों को भगवान शिव की विधिवत पूजा अर्चना करनी चाहिए और शिव चालीसा का पाठ करना चाहिए।

धनु राशि- शिवजी की कृपा पाने के लिए ओम नमः शिवाय मंत्र का 108 बार जाप करें।

मकर राशि- भोलेनाथ को खुश करने और शनि की साढे साती के प्रभाव को कम करने के लिए शिव चालीसा का पाठ करें।

कुंभ राशि- कुंभ राशि वालों को शिवलिंग पर काला तिल चढ़ाना चाहिए और गंगाजल से भगवान शिव का अभिषेक करना चाहिए।

मीन राशि- शनि के अशुभ प्रभाव को कम करने के लिए कच्चे दूध से शिवलिंग का अभिषेक करें।

डिस्क्लेमर: इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य एवं सटीक हैं। विस्तृत और अधिक जानकारी के लिए संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें