Pitru Paksha 2019 know why is crow believed auspicious in Shraddha it also give sign to get married soon - Pitru Paksha 2019: जानें श्राद्ध में कौआ दिखना क्यों मानते हैं शुभ, कौवे के इस संकेत से जल्दी होती है शादी DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Pitru Paksha 2019: जानें श्राद्ध में कौआ दिखना क्यों मानते हैं शुभ, कौवे के इस संकेत से जल्दी होती है शादी

crow and shraddha

भारतीय समाज में कौआ का कांव-कांव करना अच्छा नहीं माना जाता। एक तो कौवे की करकस आवाज और दूसरी ओर उसका सर्वाहारी होना लोगों को पसंद नहीं आता। अन्य पक्षियों की तुलना में इस गंदा समझा जाता है। शायद इसीलिए लोग कौओं को अपने आस पास आश्रय नहीं देते। लेकिन पौराणिक मान्यताओं के अनुसार, पितृ पक्ष यानी श्राद्ध के दौरान 15 दिन तक कौओं को काफी सम्मान के साथ देखा जाता है।

मान्यता है कि कौआ और पीपल का पेड़ पूर्वजों का प्रतीक होते हैं। श्राद्ध के दौरान इन्हें जो कुछ भी अर्पण किया जाता है वह पूर्वजों तक पहुंचता है। इससे पितरों की आत्मा को शांति मिलती है। इसीलिए इन श्राद्ध के इन 15 दिनों को कौओं को मेहमान माना जाता है।


शुभ होते हैं कौवे के ये संकेत-
माना जाता है कि कौआ जब घर की छत, मुंडेर या खपरैल पर बैठकर सुबह काँव काँव करता है तो शुभ माना जाता है। कहते हैं कौवे का बोलना घर में मेहमान आने का संकेत देते हैं।


यह भी कहा जाता है कि कौवा यदि किसी कुंवारी लड़की के ऊपर से उड़कर निकले तो समझो कि जल्द ही उसकी शादी होने वाली है। साथ यदि विवाहित महिला के ऊपर से उड़कर निकले तो माना जाता है कि उसकी गोद भरने वाली है।

कौआ की चोंच में फूल पत्ती दिखे तो मनोरथ की प्राप्ति के संकेत हैं। इसी प्रकार कौवे को देखने कई अन्य भी शुभ व अशुभ विचार हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Pitru Paksha 2019 know why is crow believed auspicious in Shraddha it also give sign to get married soon