ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News AstrologyPalmistry Know about your love or arrange marriage by lucky and unlucky sign on maariage line

Palmistry: लव या अरेंज मैरिज? हथेली की लकीरों से जानें विवाह का योग

Lucky Marriage Line : हस्तरेखा शास्त्र के अनुसार, हथेली की रेखाओं के माध्यम से व्यक्ति के अरेंज या लव मैरिज और उसके वैवाहिक जीवन के बारे में कई विशेष बातों का अनुमान लगाया जा सकता है।

Palmistry: लव या अरेंज मैरिज? हथेली की लकीरों से जानें विवाह का योग
Arti Tripathiडॉ जेएन पांडे,नई दिल्लीSun, 26 Nov 2023 05:34 AM
ऐप पर पढ़ें

Palmistry Sign For Marriage : हस्तरेखा शास्त्र के अनुसार, हथेली की लकीरों से किसी व्यक्ति के करियर, स्वास्थ्य, आर्थिक स्थिति और प्रेम सहित जीवन के लगभग सभी पहलुओं के बारे में अनुमान लगाया जा सकता है। इन दिनों ज्यादातर युवाओं की ख्वाहिश होती है कि उनकी लव मैरिज हो। ऐसे में लड़का हो या लड़की हर कोई जानना चाहता है कि उसकी किस्मत में लव मैरिज है या फिर अरेंज मैरिज।  हथेलियों पर भी ऐसी रेखाओं मौजूद होती हैं, जो व्यक्ति के लव या अरेंज मैरिज का संकेत देती हैं। आइए जानते हैं हथेली की रेखाओं के माध्यम से व्यक्ति के विवाह के योग के बारे में...

विवाह रेखा : हथेली पर छोटी उंगली के नीचे वाले भाग में विवाह रेखा होती है। यह रेखा हृदय रेखा से ऊपर हाथ के बाहरी भाग से शुरू होकर बुध पर्वत की ओर जाती हुई नजर आती है। हथेली पर विवाह रेखा की बनावट से उसके वैवाहिक जीवन में के बारे में क बातों का पता लगाया जा सकता है।

लव मैरिज होगी या अरेंज?

-मान्यता है कि जिस व्यक्ति की मैरिज लाइन पर वर्ग का निशान बनता है। ऐसे लोगों के लव मेरिज की संभावनाएं ज्यादा होती हैं।
-विवाह रेखा पर त्रिशूल का चिन्ह बनना भी बेहद शुभ माना जाता है। मान्यता है कि इससे लव मैरिज के योग बनते हैं।
-हस्तरेखा शास्त्र के अनुसार, अगर किसी व्यक्ति की हथेली पर शुक्र पर्वत ज्यादा उभरा हुआ हो, तो इससे जीवन में लव मैरिज के योग बनते हैं।
-जिन लोगों की हृदय रेखा को कोई दूसरी रेखा काटती हैं, उन्हें लव मैरिज में दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। मान्यता है कि ऐसे लोगों की अरेंज मैरिज होती है।

विवाह रेखा के शुभ-अशुभ संकेत

-गहरी और लंबी विवाह रेखा शुभ मानी जाती है। मान्यता है कि इससे वैवाहिक जीवन में खुशहाली बनी रहती है और रिश्तों में प्यार की कमी नहीं होती है।
-विवाह रेखा की शुरुआत में द्वीप का चिन्ह बनना शुभ नहीं होता है। मान्यता है कि इससे रिश्तों में कड़वाहट बढ़ती है।
-मान्यता है कि अगर चंद्र पर्वत से कोई रेखा निकलकर विवाह रेखा के साथ मिले, तो ऐसे व्यक्ति को बहुत प्यार करने वाला जीवनसाथी मिलता है।
-विवाह रेखा को अगर कोई खड़ी रेखा काट रही हो, तो यह विवाह में देरी के संकेत माने जाते हैं। इससे व्यक्ति का विवाह होने में कई बाधाएं आती हैं।

डिस्क्लेमर: इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य है और सटीक है। इन्हें अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।


 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें