DA Image
8 अक्तूबर, 2020|5:24|IST

अगली स्टोरी

Padmini Ekadashi 2020: रविवार को है पद्मिनी एकादशी,सूर्य देव और भगवान विष्णु की पूजा से मिलेंगे विशेष फल

lord vishnu

अधिक मास की शुक्ल पक्ष की एकादशी 27 सितंबर को है। अधिकमास में पड़ने वाली एकादशी को कमला एकादशी, पद्मिनी एकादशी भी कहा जाता है। इस एकादशी का बहुत महत्व होता है। एकादशी तिथि 27 सितंबर को सुबह 06:02 बजे शुरू होगी और एकादशी तिथि 28 सितंबर को सुबह 07.50 मिनट पर समाप्त होगी।

इस सप्ताह है कमला एकादशी, पढ़ें सप्ताह के व्रत और त्योहार

अधिकमास भगवान विष्णु का मास है। इसलिए इस महीने में भगवान विष्णु की विशेष पूजा अर्चना की जाती है। कहते हैं कि इस व्रत को करने वाला हर प्रकार के दुखों से छूट जाता है और अंत में उसे बैकुंठ धाम की प्राप्ति होती है। आपको बता दें कि यह एकादशी रविवार को पड़ रही है, इसलिए इसका महत्व औऱ भी बढ़ गया है। आपको बता दें कि जिस तरह अधिकमास तीन साल में एक बार आता है, उसी प्रकार यह एकादशी भी तीन साल में एक बार आती है। 

Aja Ekadashi 2020: अजा एकादशी के दिन भूलकर भी न करें ये काम, जानें क्या करें और क्या नहीं

इस दिन भगवान विष्णु की पूजा अर्चना के साथ सूर्यदेव का भी विशेष पूजन अर्चन हो जाएगा। अधिकमास में इस एकादशी व्रत का महत्व तो स्वंय भगवान कृष्ण ने युधिष्ठिर और अर्जुन को बताया था।ऐसा कहा जाता है कि भगवान विष्णु और सूर्य देव की पूजा एक साथ करने जीवन में कई परेशानियों का अंत होता है। 

इस दिन सुबह उठकर सच्चे मन से व्रत का संकल्प लेकर स्नानादि क्रियाओं से निवृत होने के बाद भगवान श्री हरि जी की धूप, दीप, नेवैद्य, पुष्प एवं मौसमी फलों से पूजा करें। पंचामृत से भगवान को स्नान कराएं। पूरे दिन निराहार व्रत रखें। आप फलाहार कर सकते हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Padmini Ekadashi 2020: On Sunday Padmini Ekadashi worship of Sun God and Lord Vishnu will meet special fruits