DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नवरात्र पर ऐसे करें मातारानी का स्वागत

चैत्र नवरात्र आरंभ होने जा रहे हैं। नवरात्र के दिनों में माता रानी अपने भक्तों पर कृपा बरसाती हैं। नवरात्र के नौ दिनों में मां दुर्गा के नौ अलग-अलग स्वरूपों की पूजा की जाती है। इन पावन दिनों में देवी मां आशीर्वाद देने के लिए हमारे घरों में विराजमान होती हैं। इन पवित्र दिनों में घर में मौजूद नकारात्मक ऊर्जा को दूर करने के लिए वास्तु में बताए गए कुछ आसान से उपायों को आजमा सकते हैं। आइए जानते हैं इनके बारे में। नवरात्र में देवी मां की आराधना करने से नकारात्मक ऊर्जा और समस्त बाधाएं दूर हो जाती हैं।

पहले नवरात्र पर आम और अशोक के पत्तों की माला बनाकर अपने घर के मुख्य द्वार पर बांधें। ऐसा करने से घर की सभी तरह की नकारात्मक ऊर्जा नष्ट हो जाती है। घर या दुकान के मुख्य द्वार पर ऊं का चिन्ह बनाएं या शुभ लाभ लिखें। ऐसा करने से कोई भी बीमारी घर में ज्यादा दिन तक टिक नहीं पाती है। घर के पूजा स्थल की स्वच्छता का विशेष ध्यान रखें। घर के मुख्य द्वार पर मां लक्ष्मी के पैर के निशान बनाने से घर में सुख-शांति और समृद्धि बनी रहती है। पैर की दिशा घर के भीतर की ओर होनी चाहिए। नवरात्र में किसी भी दिन मंदिर में जाकर मां लक्ष्मी को पीले चावल का भोग लगाएं। नवरात्र के दौरान खानपान और विचारों को पूरी तरह सात्‍व‍िक रखें। नवरात्र में गाय के घी से अखंड ज्योति प्रज्जवलित करें। घर या दुकान के मेन गेट के ऊपर मां लक्ष्मी की तस्वीर लगाएं, जिसमें मां कमल के फूल पर विराजित हों। नवरात्र में घर के मेन गेट के पास किसी बर्तन में पानी भरकर उसमें फूल डाल दें। इसे गेट की पूर्व या उत्तर दिशा में रखें।

इस आलेख में दी गई जानकारियां धार्मिक आस्थाओं और लौकिक मान्यताओं पर आधारित हैं, जिसे मात्र सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर प्रस्तुत किया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Navaratri