ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News AstrologyNarak Chaturdashi 2023 date know Chhoti Diwali importance Yam puja vidhi and deepdaan time

Choti Diwali 2023: आज नरक चतुर्दशी या छोटी दिवाली, जानें इस दिन का महत्व, यम पूजा विधि व दीपदान का उत्तम मुहूर्त

Narak Chaturdashi 2023 Shubh Muhurat: नरक चतुर्दशी के दिन दक्षिण दिशा में यम के नाम का दीपक जलाते हैं। मान्यता है कि ऐसा करने से यम प्रसन्न होते हैं और काल से परिवार की रक्षा करते हैं।

Choti Diwali 2023: आज नरक चतुर्दशी या छोटी दिवाली, जानें इस दिन का महत्व, यम पूजा विधि व दीपदान का उत्तम मुहूर्त
Saumya Tiwariलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSat, 11 Nov 2023 10:14 AM
ऐप पर पढ़ें

Choti Diwali, Narak Chaturdashi 2023 Muhurat and Deepdaan vidhi: छोटी दिवाली या नरक चतुर्दशी हर साल कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को मनाते हैं। छोटी दिवाली या नरक चतुर्दशी इस साल 11 नवंबर 2023, शनिवार को है। इस दिन को रूप चतुर्दशी के नाम से भी जानते हैं। छोटी दिवाली की शाम को घर के बाहर मृत्यु के देवता यमराज को दक्षिण दिशा में दीप दान किया जाता है। शास्त्रों में वर्णित है कि नरक चतुर्दशी के दिन यम के नाम का दीपदान करने से जातक को अकाल मृत्यु का भय नहीं रहता है। कहते हैं कि नरक चतुर्दशी के दिन सुबह स्नान करने के बाद भगवान कृष्ण की पूजा करने से सौंदर्य की प्राप्ति होती है।

छोटी दिवाली या नरक चतुर्दशी तिथि शुभ मुहूर्त 2023: चतुर्दशी तिथि 11 नवंबर 2023 को दोपहर 01 बजकर 57 मिनट पर प्रारंभ होगी और 12 नवंबर 2023 को दोपहर 02 बजकर 44 मिनट तक रहेगी। काली चौदस मुहूर्त 11 नवंबर को रात 11 बजकर 38 मिनट से 12 नवंबर को सुबह 12 बजकर 31 मिनट तक रहेगा।

स्वाति नक्षत्र व सौभाग्य योग में दीवाली 12 नवंबर को, जानें लक्ष्मी-गणेश व कुबेर पूजन विधि व समय

छोटी दिवाली के दिन होगी हनुमान पूजा: हनुमान पूजा तथा काली चौदस एक ही दिन आते हैं। यह माना जाता है कि काली चौदस की रात में प्रेत आत्माएं सर्वाधिक शक्तिशाली होती हैं। ऐसे में सभी प्रकार की बुरी आत्माओं से सुरक्षा के लिए और शक्ति-बल की प्राप्ति के लिये हनुमान जी की पूजा की जाती है। इसी दिन अयोध्या के प्रसिद्ध हनुमानगढ़ी मंदिर में हनुमान जन्मोत्सव मनाया जाता है। बाकी उत्तर भारत में चैत्र पूर्णिमा पर हनुमान जन्मोत्सव मनाया जाता है।

दिवाली हनुमान पूजा मुहूर्त: हनुमान पूजा मुहूर्त रात 11 बजकर 38 मिनट से 12 नवंबर को देर सुबह 12 बजकर 31 मिनट तक रहेगा। कुल अवधि 53 मिनट की है।

नरक चतुर्दशी के दिन ऐसे करें दीपदान-

1. नरक चतुर्दशी के दिन घर के सबसे बड़े सदस्‍य को यम के नाम का एक बड़ा दीया जलाना चाहिए।
2. इस दीये को पूरे घर में घुमाएं।
3. अब घर से बाहर जाकर दूर इस दीये को रख आएं।
4. घर के दूसरे सदस्‍य घर के अंदर ही रहें और उन्हें यह दीपक नहीं देखना चाहिए।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें