DA Image
28 फरवरी, 2020|8:15|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Mauni Amavasya 2020: कुंडली में भारी है शनि तो मौनी अमावस्या पर करें इन चीजों का दान

mauni amavasya 2020

Mauni Amavasya 2020: आज मौनी अमावस्या  है। इस बार की मौनी अमावस्या कई मायनों में खास बताई जा रही है। दरअसल इस बार न्याय के देवता शनि 30 वर्षों के बाद मौनी अमावस्या के ही दिन मकर राशि में प्रवेश करने वाले हैं। जिसकी वजह से इसका महत्व कई गुना बढ़ गया है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार मौनी अमावस्या पर व्यक्ति को दान , पुण्य और जाप करना चाहिए। माना जाता है कि इस दिन गंगा स्नान करने से अश्वमेघ यज्ञ करने के समान फल मिलता है। यदि किसी व्यक्ति की कुंडली में शनि की दशा चल रही है या उसका शनि भारी है तो मौनी अमावस्या के दिन किया गया इन चीजों का दान उसकी समस्या दूर कर सकता है। 

पुराणों के अनुसार मौनी अमावस्‍या के दिन पितृगण पितृलोक से संगम में स्‍नान स्‍नान करने आते हैं। कहा जाता है कि इस तरह देवताओं और पितरों का संगम होता है। यही वजह है कि इस दिन किया गया जप, तप, ध्यान, स्नान, दान, यज्ञ, हवन व्यक्ति को कई गुना फल देता है। मौनी अमावस्या के दिन व्यक्ति को अपनी सामर्थ्य के अनुसार दान, पुण्य तथा जाप करने चाहिए।

अमावस्या के ही शनिदेव ने लिया था जन्म-
इस साल 24 जनवरी को मौनी अमावस्या के ही दिन सुबह 9 बजकर 56 मिनट पर शनि राशि परिवर्तन करके अपनी राशि मकर में प्रवेश करने वाले हैं। ज्योतिषयों के अनुसार अमावस्या के ही दिन शनिदेव का भी जन्म हुआ था।

कुंडली में शनि को शांत करने के उपाय-
यदि किसी व्यक्ति की कुंडली में शनि खराब स्थिति में है तो उसे सौम्य बनाने के लिए शनिवार के दिन सुबह-शाम सरसों के तेल का दीपक जलाकर शनि स्तोत्र का पाठ कम से कम 11 बार करें। मान्यता है कि महाराज दशरथ को शनि महाराज से वरदान मिला है कि जो इस स्तोत्र का पाठ करेगा उसे शनि नहीं सताएंगे।

शनि महाराज का वास मदिरा, मांस, झूठ, कपट, धोखा में होता है। गरीब और कमजोर लोगों में भी शनि का वास माना जाता है। यदि आप चाहते हैं कि शनि देव की कृपा आपके ऊपर हमेशा बनी रहे तो कभी भी खुद से कमजोर और गरीब व्यक्ति को सताना नहीं चाहिए। शनिवार के दिन मांस- मदिरा का सेवन करने से भी बचें। खाने के बाद एक लौंग चबाने की आदत डालें। 

मौनी अमावस्या पर शनि से जुड़ी इन चीजों का करें दान-
यूं तो हर महीने की अमावस्या पर दान करने का विशेष महत्व बताया जाता है। लेकिन इस साल 24 जनवरी को पड़ने वाली अमावस्या के दिन शनि राशि परिवर्तन करके अपनी राशि मकर में प्रवेश करने वाले हैं। जिसकी वजह से दान का महत्व कई गुना बढ़ गया है। इस दिन तिल, तेल, कंबल, कपड़े और धन का दान करना चाहिए। जिन लोगों की कुंडली में शनि भारी है उनके लिए इन चीजों का दान करना और भी आवश्यक माना गया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Mauni Amavasya 2020: Donating these things on Mauni Amavasya 2020 or Maghi amavasya can save you from bad effects of shani dev