Mahalakshmi Aarti: see Mahalakshmi Aarti in Hindi for mahalakshmi vrat puja - mahalaxmi aarti : पूजा के बाद होती है आरती, देखें हिन्दी में महालक्ष्मी आरती DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

mahalaxmi aarti : पूजा के बाद होती है आरती, देखें हिन्दी में महालक्ष्मी आरती

mahalakshmi aarti

आज महालक्ष्मी व्रत है। महालक्ष्मी पूजा के दौरान की उनकी आरती करने का भी विधान है। मान्यता है कि मां महालक्ष्मी की आरती श्रद्धापूर्वक करने से मां प्रसन्न होती हैं और भक्त की मनोकामना करती हैं। आगे पढ़ें महालक्ष्मी आरती-

ॐ जय लक्ष्मी माता, मैया जय लक्ष्मी माता।
तुमको निस दिन सेवत हर-विष्णु-धाता॥ ॐ जय...


उमा, रमा, ब्रह्माणी, तुम ही जग-माता।
सूर्य-चन्द्रमा ध्यावत, नारद ऋषि गाता॥ 
ॐ जय...

तुम पाताल-निरंजनि, सुख-सम्पत्ति-दाता। 
जो कोई तुमको ध्यावत, ऋद्धि-सिद्धि-धन पाता॥ 
ॐ जय...

तुम पाताल-निवासिनि, तुम ही शुभदाता।
कर्म-प्रभाव-प्रकाशिनि, भवनिधि की त्राता॥ 
ॐ जय...

जिस घर तुम रहती, तहँ सब सद्गुण आता।
सब सम्भव हो जाता, मन नहिं घबराता॥ 
ॐ जय...

तुम बिन यज्ञ न होते, वस्त्र न हो पाता।
खान-पान का वैभव सब तुमसे आता॥ 
ॐ जय...

शुभ-गुण-मंदिर सुन्दर, क्षीरोदधि-जाता।
रत्न चतुर्दश तुम बिन कोई नहिं पाता॥
ॐ जय...

महालक्ष्मीजी की आरती, जो कई नर गाता।
उर आनन्द समाता, पाप शमन हो जाता॥
ॐ जय
 

मां महालक्ष्मी जी की जय...

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Mahalakshmi Aarti: see Mahalakshmi Aarti in Hindi for mahalakshmi vrat puja