DA Image
4 जून, 2020|6:32|IST

अगली स्टोरी

Maha Shivaratri 2020: 21 फरवरी को है महाशिवरात्रि, शिवकृपा पाने के लिए इस विशेष योग में करें पूजा

mahashivratri

Maha Shivaratri 2020: हिंदू धर्म में महाशिवरात्रि का बहुत बड़ा महत्व माना जाता है। इस दिन भोलेबाबा के भक्त उन्हें प्रसन्न् करने के लिए उनका व्रत और पूजन करते हैं। इस साल महाशिवरात्रि का व्रत 21 फरवरी को रखा जाएगा। खास बात यह है कि इस महाशिवरात्रि पर लगभग 117 साल बाद एक अद्भुत संयोग बन रहा है। शनि स्वयं की राशि मकर में है और शुक्र अपनी उच्च की राशि मीन में होंगे जो कि एक दुर्लभ योग है। माना जाता है कि इस दिन भगवान शिव की आराधना करने से उनके भक्तों के सारे पाप और संकट दूर होते हैं। 

ज्योतिष शास्त्र में साधना के लिए तीन रात्रि विशेष मानी गई हैं। इनमें शरद पूर्णिमा को मोहरात्रि, दीपावली की कालरात्रि तथा महाशिवरात्रि को सिद्ध रात्रि कहा गया है। इस बार महाशिवरात्रि पर सर्वार्थ सिद्धि योग का संयोग भी रहेगा। इस योग में भगवान शिव-पार्वती की पूजा-अर्चना को श्रेष्ठ माना गया है। महाशिवरात्रि को शिव पुराण और महामृत्युंजय मंत्र का जाप करना चाहिए।

शास्त्रों के अनुसार महाशिवरात्रि के दिन भगवान शिव का विवाह माता पार्वती के साथ हुआ था इसलिए इस दिन उनके विवाह का उत्सव मनाया जाता है। इस दिन बेलपत्र, धतूरा, दूध, दही, शर्करा से भगवान शिव का अभिषेक करने से मनवांछित इच्छा पूरी होती है।

शुभ मुहूर्त- 
महाशिवरात्रि 21 फरवरी 2020 को शाम को 5 बजकर 16 मिनट से शुरू होकर अगले दिन यानी 22 फरवरी दिन शनिवार को शाम 07 बजकर 9 मिनट तक रहेगी। जो श्रद्धालु मासिक शिवरात्रि का व्रत करना चाहते है, वह इसे महाशिवरात्रि से शुरू कर सकते हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Maha Shivaratri 2020: Mahashivratri falls on 21 february to get lord shiva blessings mahashivratri puja subh muhurat and shiv katha