अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हस्तरेखा: भाग्यशाली व्यक्ति के हाथों में ही बनता है यह पर्वत

हथेली की प्रतीकात्मक तस्वीर (साभारः गूगल)

हस्तरेखा ज्योतिष में हथेलियों की बनावट, रेखाओं और चिह्नों के आधार पर भविष्य व स्वभाव के बारे में पता लगाया जा सकता है। ऐेसे ही हस्तरेखा विज्ञान में हथेली में मौजूद पर्वतों का भी अलग महत्व है। कहा जाता है कि अगर किसी व्यक्ति का शनि पर्वत उभरा हुआ होता है तो वह बहुत लकी होता है। आइए जानते हैं इससे जुड़ी कुछ बातें

पंडित राजेश शर्मा के मुताबिक मध्यमा अंगुली के नीचे शनि पर्वत का स्थान है। खास बात यह है कि शनि पर्वत बहुत भाग्यशाली व्यक्ति के हाथों में ही विकसित होता है। शनि ग्रह से प्रभावित मनुष्य के शारीरिक गठन को बहुत आसानी से पहचाना जा सकता है। ऐसे मनुष्य कद में असामान्य रूप से लम्बे होते हैं। उनका शरीर सुसंगठित होता है, लेकिन सिर पर बाल कम होते हैं। लम्बे चेहरे पर अविश्वास और संदेह से भरी उनकी गहरी और छोटी आंखें हमेशा उदास रहती हैं। बावजूद इसके उत्तोजना, क्रोध और घृणा को ये छिपा नहीं पाते।

वास्तु : एक मोर पंख आपको कर सकता है मालामाल, जानें क्यों है शुभ

पूर्ण विकसित शनि पर्वत वाला मनुष्य प्रबल भाग्यवान होता है। ऐसे मनुष्य जीवन में अपने प्रयत्‍नों से अधिक उन्नति प्राप्त करते हैं। शुभ शनि पर्वत प्रधान मनुष्य इंजीनियर, वैज्ञानिक, जादूगर, साहित्यकार, ज्योतिषी, कृषक एवं रसायन शास्त्री होते हैं। शुभ शनि पर्वत वाले स्त्री-पुरुष प्रायः अपने माता-पिता की इकलौती संतान होते हैं। उनके जीवन में प्रेम सर्वोपरि होता है। बुढापे तक प्रेम में उनकी रुचि रहती है। वे स्वभाव से संतोषी और कंजूस होते हैं।

Raksha Bandhan 2018: अपने भाई-बहन को भेजें ये प्‍यार भरे messages

इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य व सटीक हैं तथा इन्हें अपनाने से अपेक्षित परिणाम मिलेगा। इन्हें अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:lucky people have this parvat in their palm shani parvat palm reading