know what is panchak and its types - आज से शुरू हो गया राज पंचक, जानें कैसे और कितने प्रकार के होते हैं पंचक DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आज से शुरू हो गया राज पंचक, जानें कैसे और कितने प्रकार के होते हैं पंचक

panchak

कई लोगों से अक्सर सुना होगा कि पंचक लग रहे हैं। ये सुनकर डर जाते हैं कि इन पांच दिनों कोई शुभ कार्य नहीं करना है। लेकिन सच्‍चाई ये है कि यह भ्रम है। पंचकों के भी कई भेद हैं। सारे पंचक एक जैसे नहीं होते। कुछ पंचक ऐसे भी होते हैं जिनमें शुभ काम करना सही रहता है जबकि कई प्रकार के कार्य पंचक में बहुत अशुभ होते है। जानिए वार के हिसाब से पंचक के प्रकार।

रोग पंचक

रविवार के दिन से शुरू होने वाले पंचक रोग पंचक कहलाता है। इसके प्रभाव से ये पांच दिन शारीरिक और मानसिक परेशानियों वाले होते हैं। इस समय किसी भी प्रकार के शुभ कार्य नहीं करने चाहिये। हर तरह के मांगलिक कार्यों में ये पंचक अशुभ माना जाता है।

राज पंचक

सोमवार से शुरू होने वाले पंचक को राज पंचक कहते हैं। ये पंचक शुभ माने जाते हैं। इसके प्रभाव से इन पांच दिनों में सरकारी कार्यों में सफलता मिलती है। राज पंचक में सम्पत्ति से जुड़े कार्य करना भी शुभ रहता है।

अग्नि पंचक

मंगलवार को शुरू होने वाला पंचक अग्नि पंचक कहलाता है। इन पांच दिनों में कोर्ट-कचहरी और विवाद आदि के फैसले, अपना हक प्राप्त करने वाले काम किये जा सकते हैं। इस पंचक में अग्नि का भय होता है। इन पंचकों में किसी भी तरह का निर्माण कार्य, औजार और मशीनरी कामों की शुरूआत को अशुभ माना जाता है।

चोर पंचक

शुक्रवार को शुरू होने वाला पंचक चोर पंचक कहलाता है। इन दिनों में यात्रादि करने की सख्त मनाही है और इन दिनों में लेन-देन व्यापार और किसी भी तरह के सौदे-समझौते नहीं करने चाहिये। मना किये गए कार्य करने से धनहानि, धोखा और चोरी होने की आशंका रहती है।

मृत्यु पंचक

शनिवार को शुरू होने वाला पंचक मृत्यु पंचक कहलाता है। इसके नाम से ही पता चलता है कि अशुभ दिन से शुरू होने वाला ये पंचक मृत्यु के बराबर कष्टदायी होता है। इन पांच दिनों में जोखिम भरे काम नहीं करना चाहिये। इसके प्रभाव से विवाद, चोट, दुर्घटना आदि होने का खतरा रहता है।

सामान्य

इसके अलावा बुधवार और गुरूवार को शुरु होने वाले पंचक में ऊपर दी गयी बातों का पालन करना जरूरी नहीं माना गया हैं। इन दो दिनों में शुरू होने वाले पंचकों में इन कामों के अलावा किसी भी तरह के शुभ काम किये जा सकते है।

(ये जानकारियां धार्मिक आस्थाओं और लौकिक मान्यताओं पर आधारित हैं, जिसे मात्र सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर प्रस्तुत किया गया है।)

शुरू हो चुके हैं राज पंचक, इन 5 दिन इस दिशा में न करें यात्रा

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:know what is panchak and its types