DA Image
14 दिसंबर, 2020|6:29|IST

अगली स्टोरी

Chandra Grahan 2020: कार्तिक पूर्णिमा के दिन लगेगा इस साल का आखिरी चंद्र ग्रहण, जानें ग्रहण का समय

कार्तिक पूर्णिमा इस बार 30 नवंबर को मनाई जाएगी। कार्तिक मास का सबसे आखिरी दिन होता है कार्तिक पूर्णिमा। स्नान और दान के लिहाज से यह दिन बहुत महत्वपूर्ण होता है। इस बार कार्तिक पूर्णिमा दो तरह से बहुत महत्वपूर्ण है। कार्तिक पूर्णिमा पर एक तरफ जहां चंद्रग्रहण लग रहा है, वहीं दो शुभ संयोग इस पूर्णिमा को औऱ भी पावन बना रहे हैं। सर्वार्थ सिद्धि योग व वर्धमान योग इस बार कार्तिक पूर्णिमा के दिन रहेंगे।

कार्तिक पूर्णिमा पर स्नान और दान का भी बहुत महत्वपूर्ण है। कार्तिक के पूरे महीने चलने वाले स्नान भी इस दिन समाप्त होंगे।  इस बारपूर्णिमा तिथि की शुरुआत 29 नवंबर को दोपहर 12:47 से प्रारंभ होकर 30 नवंबर को दोपहर 2:59 तक रहेगी। वहीं ग्रहण 30 नवंबर दोपहर 1 बजकर 4 मिनट से शुरू होगा और 30 नवंबर शाम 5 बजकर 22 मिनट तक रहेगा। हालांकि ग्रहण का सूतक नहीं लगेगा। क्योंकि ये उपछाया चंद्र ग्रहण है।  आपको बता दें कि वृषभ राशि और रोहिणी नक्षत्र में यह उपचाया चंद्रग्रहण होगा, जिसका कोई असर नहीं होगा। ज्योतिषाचार्य का कहना है कि उपछाया चंद्रग्रहण में न तो कोई सूतक ही लगेगा और न ही किसी प्रकार के शुद्धिकरण आदि की आवश्यकता होगी। इससे पहले 10 जनवरी, 5 जून व 5 जुलाई को भी ग्रहण लग चुके हैं। अब साल का अंतिम सूर्य ग्रहण 14 दिसंबर को होगा

पूर्णिमा तिथि
29 नवंबर को दोपहर 12:47 से
30 नवंबर को दोपहर 2:59 तक

ग्रहण प्रारंभ - 30 नवंबर दोपहर 1 बजकर 4 मिनट
ग्रहण मध्यकाल - 30 नवंबर दोपहर 3 बजकर 13 मिनट
ग्रहण समाप्त -  30 नवंबर शाम 5 बजकर 22 मिनट

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Kartik maas purnima Chandra Grahan 2020: last lunar eclipse 2020 on Kartik Purnima day know India timings and significance