Kartarpur: Online registration of devotees could not begin - करतारपुर : श्रद्धालुओं का ऑनलाइन पंजीकरण शुरू नहीं हो सका DA Image
12 नबम्बर, 2019|3:55|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

करतारपुर : श्रद्धालुओं का ऑनलाइन पंजीकरण शुरू नहीं हो सका

kartarpur

भारत-पाकिस्तान के बीच करतारपुर कॉरिडोर को लेकर अंतिम मसौदे पर सहमति नहीं बनने के चलते गुरुद्वारा दरबार साहिब करतारपुर के दर्शनों के लिए रविवार को शुरू होने वाली ऑनलाइन पंजीकरण प्रक्रिया शुरू नहीं हो सकी। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

पाकिस्तान प्रत्येक श्रद्धालु से 20 अमेरिकी डॉलर (1,421 रुपये ) की सेवा शुल्क वसूलना चाहता है, जिसे लेकर दोनों देशों के बीच गतिरोध बना हुआ है। भारत पाकिस्तान की इस शर्त का कड़ा विरोध कर रहा है। वहीं पाकिस्तान फीस वसूलने पर अड़ा हुआ है।

भारत-पाकिस्तान के बीच तीर्थयात्रा के कुछ अनसुलझे मुद्दों पर शनिवार को एक समझौते पर हस्ताक्षर करना था, लेकिन अभी तक हस्ताक्षर नहीं हो सके। इस वजह से करतारपुर तीर्थयात्रा के लिए ऑनलाइन पंजीकरण रविवार को शुरू नहीं किया जा सका।

एक आधिकारिक ने बताया कि समझौता सेवा शुल्क और तीर्थयात्रियों की संख्या सीमित को लेकर सहमति बननी  है। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Kartarpur: Online registration of devotees could not begin