DA Image
22 सितम्बर, 2020|1:35|IST

अगली स्टोरी

Janmashtami 2020: जानें जन्माष्टमी पर कैसा हो कन्हैया का श्रृंगार, प्रसाद और मूर्ति का चुनाव करते समय ध्यान रखें ये बातें

Janmashtami 2020: जन्माष्टमी पर श्रीकृष्ण के श्रृंगार का विशेष महत्व बताया गया है। देशभर में जन्माष्टमी 11 और 12 दो दिन मनाई जा रही है। जन्माष्टमी पर घर-घर में कान्हा को विराजा जाता है। उनका श्रृंगार किया जाता है। उन्हें नए कपड़े, बांसुरी, मुकुट और मोरपंख लगाया जाता है। ऐसे में आइए जानते हैं कान्हा को प्रसन्न करने के लिए जन्माष्टमी पर कैसे करें श्रीकृष्ण का श्रृंगार और उनके भोग में करें क्या-क्या चीजें शामिल।

कैसे करें श्रीकृष्ण का श्रृंगार-
श्री कृष्ण का श्रृंगार करते समय पुष्पों का प्रयोग करें। साथ ही श्री कृष्ण का श्रृंगार पीले रंग के वस्त्र और चन्दन की सुगंध से उनका श्रृंगार करें। श्रृंगार करते समय ध्यान रखें कि श्री कृष्ण के श्रृंगार के समान में कुछ भी काला नहीं होना चाहिए।

प्रसाद में जरूर करें ये चीजें शामिल-
जन्माष्टमी के प्रसाद में पंचामृत बनाते समय उसमें तुलसी दल जरूर डालें। कान्हा को मेवा, माखन और मिसरी का भोग भी लगाएं। इसके अलावा धनिये की पंजीरी भी प्रसाद के रूप में अर्पित की जाती है। 

जन्माष्टमी पर कैसी हो श्री कृष्ण की मूर्ति-
जन्माष्टमी के दिन कृष्ण के बाल स्वरूप की पूजा की जाती है। लेकिन आप अपनी इच्छा के अनुसार भी कृष्ण के अलग-अलग रूपों की पूजा कर सकते हैं। उदाहरण के लिए, प्रेम और दाम्पत्य जीवन के लिए राधा-कृष्ण की, संतान के लिए बाल कृष्ण की और सभी मनोकामनाओं के लिए बंसी वाले कृष्ण की स्थापना अपने मंदिर में करें।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:janmashtami 2020:know how should be krishna shringar prasad and murti sthapna on janmashtami will blessed you with happiness