ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ धर्म15 फरवरी से एक दशक बाद बन रही है गुरु संग इस ग्रह की युति

15 फरवरी से एक दशक बाद बन रही है गुरु संग इस ग्रह की युति

शुक्र ने अभी राशि परिवर्तन किया है। अब 15 फरवरी को शुक्र मीन राशि में प्रवेश करेंगे। 12 साल बाद गुरु मीन राशि में होते है और उसी मीन राशि में शुक्र उच्च के होते है। इनकी युति कई मायनों में खास होती है

15 फरवरी से एक दशक बाद बन रही है गुरु संग इस ग्रह की युति
Anuradha Pandeyलाइव हिंदुस्तान टीम,नई दिल्लीWed, 25 Jan 2023 09:57 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

शुक्र ने अभी राशि परिवर्तन किया है। अब 15 फरवरी को शुक्र मीन राशि में प्रवेश करेंगे। 12 साल बाद गुरु मीन राशि में होते है और उसी मीन राशि में शुक्र उच्च के होते है। इनकी युति कई मायनों में खास होती है। दरअसल इनकी युति से षडाष्टक योग भी बनता है।आपको बता दें कि देवगुरु बृहस्पति 22 अप्रैल 2023 तक मीन राशि में रहेंगे। इसके बाद गुरु मीन राशि से निकलकर मेष राशि में गोचर करेंगे। इस राशि में शुक्र के 15 फरवरी से जो युति बन रही है वो 15 मार्च तक रहेगी, जब शुक्र दोबारा राशि परिवर्तन करेंगे। आपको बता दें कि इन दोनों के एख ही राशि में आने से हंस राजयोग और मालव्य राजयोग का निर्माण होता है।

गुरु अपनी राशि में विराजमान होकर हंस राजयोग वही शुक्र उच्च राशि में विराजमान होकर मालव्य राजयोग का निर्माण करते हैं।  आपको यह भी बता दें कि गुरु से पहले यानी मीन राशि से पहले अभी कुम्भ राशि में शनि बैठें हैं और उनके बाद मेष राशि में राहु बैठें है। 

इस राशि परिवर्तन से मिथुन, कर्क और कन्या राशि वालों को लाभ के संकेत हैं। इन राशि के लोगों के सरकारी नौकरी परीक्षा में सफलता और व्यापार में निवेश के अच्छे योग बनेंगे।कन्या राशि के जातकों के लिए ये राजयोग अनुकूल रहेगा। गुरु और शुक्र की युति कन्या राशि की गोचर कुंडली में सप्तम भाव पर बन रही है।