DA Image
Monday, November 29, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ धर्मराशिफल 17 अक्टूबर : ग्रहों की चाल से मेष, वृष, मिथुन वालों की चमकेगी किस्मत, कन्या, कुंभ वाले रहें सर्तक, पढ़ें आज का राशिफल

राशिफल 17 अक्टूबर : ग्रहों की चाल से मेष, वृष, मिथुन वालों की चमकेगी किस्मत, कन्या, कुंभ वाले रहें सर्तक, पढ़ें आज का राशिफल

ज्‍योतिषाचार्य पंडित नरेन्‍द्र उपाध्‍याय,गोरखपुरYogesh Joshi
Sun, 17 Oct 2021 12:23 PM
राशिफल 17 अक्टूबर : ग्रहों की चाल से मेष, वृष, मिथुन वालों की चमकेगी किस्मत, कन्या, कुंभ वाले रहें सर्तक, पढ़ें आज का राशिफल

Horoscope 17 October Aaj Ka Rashifal :  ज्‍योतिषाचार्य पंडित नरेन्‍द्र उपाध्‍याय
ग्रहों की स्थिति-
राहु वृषभ राशि में हैं। सूर्य, बुध और मंगल कन्‍या राशि में हैं। शुक्र और केतु वृश्चिक राशि में, गुरु और शनि मकर राशि में और चंद्रमा कुंभ राशि में गोचर में चल रहे हैं।


राशिफल-
मेष-
रुपए-पैसे का आवक बढ़ेगा। रुका हुआ धन वापस मिलेगा। कुछ नए मार्ग भी प्रशस्‍त हो सकते हैं। कुछ अच्‍छे समाचार की प्राप्ति हो सकती है। स्‍वास्‍थ्‍य और प्रेम मध्‍यम है लेकिन व्‍यापार आपका सही चल रहा है। ब‍हुत जल्‍दी कुछ और अच्‍छी बातें भी आपके साथ जुड़ेंगी। सूर्यदेव को जल अर्पित करते रहें।

वृषभ-व्‍यापार में लाभ, पैतृक सम्‍पत्ति में इजाफा, कोर्ट-कचहरी में विजय और राजनैतिक लाभ के संकेत हैं। स्‍वास्‍थ्‍य, प्रेम मध्‍यम, व्‍यापार अच्‍छा चल रहा है। शनिदेव की अराधना करते रहें।

मिथुन-परिस्थितियां अनुकूल हो चुकी हैं। यात्रा में लाभ होगा। व्‍यापारिक दृष्टिकोण से अच्‍छा समय है। स्‍वास्‍थ्‍य मध्‍यम, प्रेम भी मध्‍यम है। संतान पक्ष पर ध्‍यान दें। मां काली की अराधना करते रहें।

कर्क-अभी थोड़ा मध्‍यम समय है। थोड़ा बचकर पार करें। स्‍वास्‍थ्‍य मध्‍यम, प्रेम-व्‍यापार की स्थिति अच्‍छी है। भगवान शिव की अराधना करते रहें। उनका जलाभिेषेक करें। नकारात्‍मकता कम होगी।

सिंह-स्‍वास्‍थ्‍य की अच्‍छी स्थिति है। बहुत जल्‍द प्रेम और संतान की भी अच्‍छी स्थिति हो जाएगी। व्‍यापारिक दृष्टिकोण से सही चल रहे हैं आप। कुछ नई व्‍यापारिक स्थिति भी बन सकती है। शनिदेव की अराधना करते रहें।

कन्‍या-शत्रु शमन संभव है लेकिन शत्रु पराभव भी संभव है। कोई कुछ बिगाड़ नहीं पाएगा। स्‍वास्‍थ्‍य पर ध्‍यान दें। प्रेम और व्‍यापार की स्थिति अच्‍छी है। शनितत्‍व यानी कोई भी नीली वस्‍तु पास रखें।

तुला-भौतिक सुख-संपदा में वृद्ध‍ि होगी। मां के स्‍वास्‍थ्‍य में सुधार होगा। आपका स्‍वास्‍थ्‍य मध्‍यम है। रक्‍तचाप पर ध्‍यान दें। प्रेम और व्‍यापार की स्थिति अच्‍छी चल रही है। मां काली की अराधना करते रहें।

वृश्चिक-पराक्रम रंग लाएगा। रोजी-रोजगार में तरक्‍की करेंगे। स्‍वास्‍थ्‍य की स्थिति भी अच्‍छी कही जाएगी। लेकिन प्रेम और संतान अभी मध्‍यम है लेकिन सिर्फ एक दिन के लिए। इसके बाद बहुत अच्‍छी स्थिति आ जाएगी। कुल मिलाकर मध्‍यम समय है लेकिन बहुत जल्‍द अच्‍छा होने वाला है। भगवान विष्‍णु की अराधना करते रहें।

धनु-स्‍वास्‍थ्‍य भी अच्‍छा होने वाला है। बस एक दिन संभाल लें। प्रेम और व्‍यापार की स्थिति अच्‍छी है। धैर्य के साथ काम लें। आने वाला वक्‍त आपका है। सूर्यदेव को जल दें।

मकर-स्‍वास्‍थ्‍य में सुधार होगा। प्रेम और व्‍यापार अभी मध्‍यम है लेकिन बहुत जल्‍द बहुत अच्‍छा होने वाला है। मां काली की अराधना करते रहें।

कुंभ-ऊर्जा कम महसूस करेंगे लेकिन सुधार हो चुका है। प्रेम और संतान का पक्ष मध्‍यम है। व्‍यापारिक दृष्टिकोण से आप सही चल रहे हैं। गणेश जी की अराधना करते रहें।

मीन-स्‍वास्‍थ्‍य में सुधार निरंतर होता जा रहा है। प्रेम में थोड़ी दूरी है। संतान थोड़ा दूर है। व्‍यापारिक दृष्टिकोण से आप सही चल रहे हैं। भगवान शिव की अराधना करते रहें।

प्रस्‍तुति-
अजय कुमार सिंह
गोरखपुर।

 

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें