DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Hatalika Teej 2019: इस तारीख को है हरतालिका तीज व्रत, जानें महत्व

shiv parvati

हिन्दू पंचांग के अनुसार भाद्रपद मास के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को हरतालिका तीज व्रत मनाया जाता है। हरतालिका तीज व्रत इस बार 1 सितंबर को मनाया जाएगा। माना जाता है इस दिन व्रत ऱखने से सौभाग्यशाली महिलाओं को अंखड़ सौभाग्य होने का वरदान मिलता है। इस व्रत में सौभाग्यवती स्त्रियां नए लाल वस्त्र पहनकर, मेंहदी लगाकर, सोलह श्रंगार करती हैं और शुभ मुहूर्त में भगवान शिव और मां पार्वती की पूजा करती हैं। 

इस व्रत के पीछे की कहानी है कि राजा हिमालय की पुत्री पार्वती ने नारद के निर्देश पर मन ही मन शिव को पति मान लिया था। पार्वती ने शिव को अपने पति के रूप में पाने के लिए इसी दिन तीज व्रत किया। उसके फलस्वरूप भगवान शिव, पार्वती को पति रूप में मिले। महादेव ने पार्वती से कहा कि आज से भाद्र शुक्ल पक्ष तृतीय को जो भी सौभाग्यवती स्त्री इसी तरह से पूजा करेंगी वह सदा सुहागन रहेंगी। 

तीज के मौके पर देवाधिदेव महादेव की पूजा की जाती है। इस मौके पर पूजा मंडप में व्रती बालू एवं मिट्टी से शिवलिंग तैयार किए जाते हैं।  महिलाएं पूजन सामग्री फूल, फल, अक्षत, चंदन, धूप, दीप और नैवेद्य से देवाधिदेव की पूजा करती हैं। पूजा के बाद अखंड सौभाग्य की कामना करेंगी और भगवान भोले शंकर से अमर सुहाग की कामना करेंगी।

इस आलेख में दी गई जानकारियां धार्मिक आस्थाओं और लौकिक मान्यताओं पर आधारित हैं, जिसे मात्र सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर प्रस्तुत किया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Hatalika Teej 2019: Hatalika Teej vrat on this date know the importance
Astro Buddy