DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Hartalika teej 2018: हरियाली तीज पर बन रहा है ये विशेष योग, जानें कब ग्रहण कर सकते हैं जल

hartalika teej shiv parvati

हरतालिका तीज भाद्रपद महीने के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को मनाई जाती है। हरतालिका तीज को बड़ी तीज व्रत भी कहा जाता है। इस बार हरितालिका तीज पर बहुत ही अच्छा संयोग बन रहा है। इस बार तुला राशि का चंद्रमा चित्रा नक्षत्र के साथ मिलकर शुक्ल योग बना रहा है। इसलिए बार किए गए पूजा आदि  का विशेष पुण्य मिलता है। कहा जाता है कि क्लयोग में किए गए व्रतादि धार्मिक अनुष्ठान एक हजार गुना अधिक फलदायी हो जाते हैं। 

-भगवान शिव और मां पार्वती की उपासना करने के बाद ही इस व्रत का पारायण करें। हरतालिका तीज के दिन रात्रि जागरण करना विशेष शुभकारी होता है। यहां पढ़ें पूजा और जल ग्रहण करने का शुभ मुहूर्त

Hartalika teej 2018: यहां देखें लेटेस्ट मेहंदी के डिजाइन

तीज का व्रत 12 सितंबर को किया जाएगा।
तीज की तिथि 11 सितंबर को सायंकाल 06 बजकर 05 मिनट पर लगेगी।
उदया तिथि में 12 सितंबर को मिलने के साथ ही उस दिन शाम 06 बजकर 36 मिनट तक तृतीया रहेगी।
तीज का पूजन, व्रतकथा का श्रवण व्रती महिलाओं को शाम 06 बजकर 36 मिनट से पूर्व करना होगा।
12 सितंबर को सुबह 05 बजकर 44 मिनट पर सूर्योदय होगा, निर्जला व्रत रखने वाली महिलाएं के पूर्व तक जल ग्रहण कर सकती हैं।
12 सितंबर को सूर्यास्त सायंकाल 06 बजकर 05 मिनट पर होगा।

Teej 2018: तीज व्रत के दौरान भूलकर भी न करें ये 5 काम

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Hartalika teej 2018: teej 2018 has special yoga know how to do pooja and when is the subh muhurat