DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Hartalika teej 2018: ये 6 पारंपरिक स्वीट डिश बनाकर मनाएं तीज

लोकप्रिय स्वीट डिश
लोकप्रिय स्वीट डिश

भाद्रपद मास में शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को हरतालिका तीज मनाया जाता है। इस बार हरतालिका तीज 12 सितंबर यानी कल है। इस दिन गौरी-शंकर का पूजन किया जाता है। यह त्योहार पूरे पश्चिम भारत में मनाया जाता है खासकर राजस्थान, हरियाणा और उत्तरप्रदेश में। इस दौरान महिलाएं 16 श्रंगार कर लोक गीत गाती है और दिनभर व्रत रखती है। इस दिन खासतौर पर कुछ लोकप्रिय स्वीट डिश बनाई जाती है। आइए जानते हैं यहां

1. घेवर

साम्रगी

एक कप आटा,
एक चौथाई कप घी
एक चौथाई कप दूध
बर्फ
फूड पीला रंग
चाशनी के लिए 1 कप चीनी
इलायची बादाम पिस्ता केसर बारीक कटा हुआ
चार कप पानी

विधि: सबसे पहले एक कटोके में ठोस घी लेकर बर्फ के टुकड़े मिलाकर इस घी को हाथों से फेंटे। इसे लगातार तब तक फेंटे जब तक कि यह घोल पतला न हो जाए। अब इसमें आटा और दूध मिलाएं और फिर दोबारा से इस घोल को फेंटे। फेंटने के बाद मिश्रण पतला हो जाएगा। 

इसके बाद गहरी कढ़ाई में ऊपर तक घी भरकर करीब 50 मिलि तक का मिश्रण घी में डालें। हल्का फ्राई करने के बाद इसे निकाल लें। और चीनी और पानी की चाशनी बनाकर इसमें घेवर को डुबोएं। ठंड़ा होने पर घेवर को खोए इलायची, बादाम, पिस्ता और केसर से सजाएं।   


2. रबड़ी

सामग्री :
दूध -03 लीटर
शक्कर– दो कप
बादाम– 10 (बारीक कटे हुए)
पिस्ता- 10 (बारीक कटे हुए)
केवड़ा जल -02 बड़े चम्मच
इलायची पाउडर-छोटा चम्मच

विधि: सबसे पहले कड़ाही में दूध को उबालें। लेकिन ध्यान रखें कि दूध को चलाते रहें। जब दूध गाढ़ा हो जाए तो उसमें केवड़ा, इलायची पाउडर और शक्कर डालें और फिर धीमी आंच पर पकाते रहें। धीरे-धीरे दूध पक कर बेहद गाढ़ा हो जाएगा और रबड़ी बन जाएगा। अब इस रबड़ी को ठंडा करने के लिए छोड़ दें। इसके बाद काजू , बादाम, पिस्ता के साथ सर्व करें।  

मालपुआ
मालपुआ

3. मालपुआ

सामग्री

गेहूं का आटा - 1 कप 
दूध --  1/4 कप 
चीनी — 1/4 कप 
देशी घी - तलने के लिए

विधि

चीनी को किसी प्याले में डाल लीजिए और दूध डालकर चीनी घोलिए। दूध और चीनी के घोल में आटे को डालिए और गुठलियां खत्म होने तक घोल लीजिये। अब इतना पानी डालें कि घोल पकोड़े के घोल के जैसा गाढ़ा हो जाए।  घोल को अच्छी तरह 4-5 मिनिट तक मिक्स करते एकदम चिकना होने तक फेटें।

चौड़े तले की कढ़ाई जो कम गहरी हो उसमें घी डाल कर गरम कीजिए। अब चम्मच में घोल भर कर कढ़ाई में गोल गोल फैला कर डालिए। धीमी और मीडियम आग पर माल पुए सेकें। हल्के गुलाबी होने पर मालपुआ निकाल कर प्लेट में रखें। कढाई के साइज के हिसाब से एक बार में एक मालपुआ ही सेका जा सकता है।

4. नारियल बर्फी


सामग्री

कद्दूकस किया नारियल- 2 कप
चीनी- 2 कप
इलायची पाउडर- 1/2 चम्मच
कटा हुआ काजू- 1/2 चम्मच
घी- 2 चम्मच

विधि

कड़ाही में घी गर्म करें और उसमें काजू डालकर उसे सुनहरा होने तक भूनें। एक ओर रख दें। उसी कड़ाही में नारियल और चीनी डालें और मध्यम आंच पर लगातार चलाते हुए पकाएं। जब नारियल से पानी निकलना बंद हो जाए तब कड़ाही में इलायची और काजू डालें और अच्छी तरह से मिलाएं। जब नारियल का रंग सुनहरा हो जाए तो गैस ऑफ कर दें। एक समतल थाली में चिकनाई लगाकर रखें और उसमें नारियल डालकर अच्छी तरह से फैला दें। दो-तीन मिनट बाद चाकू की मदद से उसे बर्फी के आकार में काट दें। बर्फी को पूरी तरह से ठंडा होने दें और उसके बाद उसे एयर टाइट कंटेनर में स्टोर करके रखें।
 

अंजीर हलवा
अंजीर हलवा

5.  अंजीर हलवा

सामग्री

200 ग्राम सूखे अंजीर
3 बड़े चम्मच शुद्ध घी
आधा कप छिले बादाम का पाउडर
एक तिहाई कप मिल्क पाउडर
4 बड़े चम्मच चीनी
चौथाई छोटा चम्मच इलायची पाउडर
2 बड़े चम्मच बादाम की हवाइयां (सजाने के लिए)


अंजीर को उबलते पानी में 3-5 मिनट तक पका लें। पानी से निकाल कर फूड प्रोसेसर में डाल दें। भारी तली की कड़ाही में घी गर्म करें। इसमें बादाम पाउडर को मंदी आंच पर 2 मिनट भून लें। इसमें कुचले हुए अंजीर, मिल्क पाउडर, आधा कप पानी के साथ चीनी मिला दें। लगभग पांच मिनट या तब तक तक भूनें जब तक कि चीनी इसमें अच्छी तरह घुल न जाए। पर इस दौरान लगातार चलाते रहें। अब इसमें अच्छी तरह इलायची पाउडर मिला दें।

बादाम की हवाइयों से सजा कर गर्मागरम सर्व करें।

6.  नारियल गुझिया

सामग्री
गूंदने के लिए

घी- 3 चम्मच
मैदा- 1 कप
पानी- आवश्यकतानुसार
नमक- चुटकी भर
भरावन के लिए

मावा- 1 कप
दरदरी पिसी चीनी- 1 कप
पिस्ता- 100 ग्राम
नारियल का बूरा- 100 ग्राम
तेल- आवश्यकतानुसार
चाशनी- गुझिया डुबोने के लिए

विधि
एक बाउल में मैदा, घी और नमक डालकर मिलाएं। धीरे-धीरे पानी डालते हुए कड़ा गूंद लें। गूंदे हुए मैदे को छोटे-छोटे हिस्से में बांट दें। भरावन तैयार करने के लिए मावे को भूनें और उसमें चीनी, पिस्ता और नारियल का बूरा डालें। गैस ऑफ करें और मिश्रण को ठंडा होने दें । अब गूंदे हुए मैदे से छोटी-छोटी पूरियां बेल लें। गुझिया का सांचा लें और उसमें एक-एक करके ये पूरियां डालें। बीच में तैयार भरावन डालें। सांचे को बंद करें। थोड़े से पानी में थोड़े मैदा के घोल से गुझिया के किनारे को सील करें। एक-एक करके सारी गुझिया बना लें। कड़ाही में तेल गर्म करें और गुझिया को सुनहरा होने तक तल लें। चाशनी में डुबोने के बाद सर्व करें।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Hartalika teej 2018 6 traditional sweets to celebrate teej