DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Hanuman Jayanti: यहां भंडारा कराने के लिए करना होगा 7 साल का इंतजार

siddhbali mandir  photo- amazingindiablog in

सिद्धबली बाबा के धाम में भंडारा करवाने के लिए श्रद्धालुओं को सात साल का इंतजार करना होगा। यहां भंडारे के लिए साल 2026 तक की एडवांस में बुकिंग हो चुकी हैं। देश-विदेश में भक्तों की आस्था का केन्द्र बने सिद्धबली मंदिर में सच्चे दिल और श्रद्धा से मांगी गई हर मुराद पूरी होती है। मनोकामना पूरी होने पर श्रद्धालु यहां भंडारा करवाते हैं। जिसके लिए उन्हें वर्षों इंतजार करना पड़ता है।

हनुमान जयंती 2019 : हनुमान जयंती पर ये 7 उपाय करेंगे आपकी हर मनोकामना पूरी, जानें इनके बारे में

 

नेशनल हाईवे पर कोटद्वार स्थित प्रसिद्ध सिद्धबली मंदिर में आने वाले साधकों को अप्रतिम शांति की अनुभूति होती है। कोटद्वार-भाबर के लोग सिद्धबली बाबा को कुलदेवता मानते हैं, इसलिए कोई भी शुभकार्य करने से पहले और कार्य संपन्न होने के बाद बाबा के दर्शन कर आर्शीवाद लेना नहीं भूलते। शादी के बाद सभी नव विवाहित जोड़ों का मंदिर में बाबा के दर्शनों को आना बेहद जरूरी माना जाता है। मान्यता है कि कोटद्वार स्थित सिद्धबली धाम में बाबा की चौखट से कोई भी श्रद्धालु निराश नहीं लौटता है। श्रद्धालुओं पर बजरंग बली की नेमत इस कदर बरसती है कि यहां भंडारा आयोजन के लिए भक्तों को सालों साल इंतजार करना पड़ता है। मंदिर के बारे में कहा जाता है कि बहुत पहले एक बाबा इस टीले पर हनुमान जी की पूजा किया करते थे। हनुमान जी ने उन्हें दिव्य सिद्धि प्रदान की थी। इसी कारण बाबा को सिद्धबली बाबा कहा जाने लगा था। 

हनुमान जी ने भी लिखी थी श्रीरामकथा

मंदिर समित के अध्यक्ष कुंज बिहारी देवरानी और प्रबंधक शैलेश जोशी ने बताया कि यहां भंडारा कराने वालों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। बताया कि वर्ष 2026 तक रविवार, मंगलवार और शनिवार के दिन भंडारा कराने की सभी तिथियां एडवांस में बुक हो गई हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:hanuman jayanti 2019 you have to wait seven years to organise bhandara in siddhbali mandir in uttarakhand