Guru Nanak Jayanti 2019 The magnificent arrangements of guru parv celebration - गुरु पर्व की धूम : गुरु नानक जंयती की भव्य तैयारियों में जुटा सिख समुदाय DA Image
13 नबम्बर, 2019|12:32|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गुरु पर्व की धूम : गुरु नानक जंयती की भव्य तैयारियों में जुटा सिख समुदाय

guruparv

'अव्वल अल्लाह नूर उपाया, कुदरत के सब बन्दे

एक नूर ते सब जग उपज्या, कौन भले कौन मंदे'

गुरु नानक जी कहते हैं, सभी इंसान उस ईश्वर के नूर से ही जन्मे हैं,  इसलिए कोई बड़ा-छोटा नहीं है कोई आम या खास नहीं है, सब बराबर हैं। 

इंसानियत की परिभाषा देने वाले सिख धर्म के संस्थापक गुरुनानक देव की 550वीं जयंती इस वर्ष 12 नवम्बर को मनाई जाएगी। सिख धर्म में गुरु नानक देव का जन्मदिन बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। सभी तरफ गुरुपर्व की तैयारियां जोरों-शोरों से देखने को मिल रही है। इसी क्रम में गौड़ सिटी-2 सोसायटी के पास बने श्री गुरु सिंह सभा गुरुद्वारे में श्री गुरु नानक देव जी के 550वें  प्रकाश पर्व के लिए सिख समुदाय के लोगों ने तैयारी शुरु कर दी है।

guru parv

 

नगर कीर्तन की शुरुआत क्रासिंग रिपब्लिक पैरामाउट सोसायटी के गेट से प्रात: 9 बजे आरम्भ होगी, जो गुरुद्वारा साहब के सामने से होते हुए महागुन मायवुड, गौड़ सिटी-1, गौड़ सिटी-2, साया जियोन तक जाएगी। इसके बाद मुख्य गेट से निकालकर साइड लेन से होते हुए पुन गौड़ सिटी 2 में जीसी-10, जीसी-11 और जीसी-12वे एवेन्यू से होते हुए गुरुद्वारा साहिब में समाप्त होगी। 

 

guru nanak

 

गुरु नानकजी का जन्म रावी नदी के किनारे स्थित तलवंडी नामक गांव में कार्तिक पूर्णिमा के दिन खत्रीकुल में हुआ था। कुछ विद्वान इनकी जन्मतिथि 15 अप्रैल, 1469 मानते हैं, किंतु प्रचलित तिथि कार्तिक पूर्णिमा को मानी जाती है, जो अक्टूबर-नवंबर में दीवाली के 15 दिन बाद पड़ती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Guru Nanak Jayanti 2019 The magnificent arrangements of guru parv celebration