DA Image
2 जून, 2020|11:58|IST

अगली स्टोरी

Guru Ka Rashi Parivartan 2020: अब 10 अप्रैल तक मकर राशि में रहेंगे गुरु बृहस्पति, संभल कर चलें इन 5 राशियों के लोग

guru ka rashi parivartan 2020

Guru Ka Rashi Parivartan 2020 Effect: देवताओं के गुरु बृहस्पति 30 मार्च 2020, दिन सोमवार को राशिपरिवर्तन किया है। गुरु ने 12 साल बाद मकर मकर राशि में प्रवेश किया है। इसी के साथ ही गुरु के मकर राशि में प्रवेश करने से पिछले चार महीनों से चल रहा गुरु-केतु का योग खत्‍म हो गया है। बता दें, गुरु मकर राशि में 10 अप्रैल 2020 तक बने रहेंगे। ज्योतिषशास्त्र के अनुसार गुरु ग्रह को ज्ञान और सत्कर्म का कारक माना जाता है। ज्योतिष शास्त्रियों द्वारा यह अनुमान लगाया जा रहा है कि 30 मार्च को गुरु का राशिपरिवर्तन होने के बाद एक से डेढ़ महीने के भीतर लोगों में कोरोना वायरस के संक्रमण का प्रभाव कम देखने को मिल सकता है। गुरु का राशिपरिवर्तन कुछ राशियों के लिए मालामाल करने वाला होगा तो कुछ के लिए कुछ चुनौतियों वाला माहौल भी लेकर आया है। जानकारों के अनुसार गुरु आने वाले समय में चार राशियों- वृष राशि, कन्या राशि, सिंह राशि और वृश्चिक राशि के लिए हर ओर सफलता दिलाने वाला होगा। वहीं 5 राशियां ऐसी भी हैं जिन्हें काफी संभलकर चलना होगा-

संभल कर चलें इन 5 राशियों के लोग-

1- मिथुन (21 मई-21 जून)
आत्मविश्वास से लबरेज रहेंगे, परंतु किसी अज्ञात भय से परेशान भी हो सकते हैं। वाणी में कठोरता का प्रभाव हो सकता है। बातचीत में संतुलित रहने का प्रयास करें। नौकरी में विदेश यात्रा के मौके मिल सकते हैं। संतान को स्वास्थ्य विकार हो सकते हैं।

2- तुला (23 सितंबर-23 अक्तूबर)
आशा-निराशा के मिश्रित भाव मन में रहेंगे। धर्म-कर्म में रुचि बढ़ेगी। किसी धार्मिक स्थान की यात्रा का कार्यक्रम बन सकता है। परिवार का साथ मिलेगा। आय में कमी और खर्च अधिक की स्थिति रहेगी। पिता को स्वास्थ्य विकार हो सकते हैं।

3- धनु (22 नवंबर- 21 दिसंबर)
वाणी में कठोरता का प्रभाव रहेगा। बातचीत में संतुलित रहें। नौकरी में अफसरों से मतभेद हो सकते हैं। फिर भी तरक्की के मार्ग प्रशस्त होंगे, लेकिन किसी दूसरे स्थान पर जाना पड़ सकता है। परिवार का सहयोग मिलेगा। सेहत का ध्यान रखें। 

4- कुंभ (20 जनवरी-18 फरवरी)
मन अशांत रहेगा। व्यर्थ के विवाद और झगड़ों से बचने का प्रयास करें। वाणी में कठोरता का प्रभाव रहेगा। बातचीत में संयत रहें। शैक्षिक कार्यों के सुखद परिणाम मिलेंगे। संतान सुख में वृद्धि होगी। परिवार के साथ यात्रा का कार्यक्रम बन सकता है। मित्रों का साथ मिलेगा।

5- मीन (19 फरवरी- 20 मार्च)
आत्मसंयत रहें। अपनी भावनाओं को वश में रखें। परिवार की समस्याएं परेशान कर सकती हैं। पिता का साथ मिलेगा। रहन-सहन कष्टमय रहेगा। किसी पैतृक संपत्ति से धनार्जन के साधन बन सकते हैं। किसी पुराने मित्र का आगमन हो सकता है। खर्चे बढ़ेंगे।

- जाने माने एस्ट्रोलॉजर पं. राघवेन्द्र शर्मा (29 march to 4 april rashifal)

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Guru Ka Rashi Parivartan 2020: Now Guru Jupiter will be in Capricorn till April 10 people of these 5 zodiac signs be careful