DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गुप्त नवरात्र में ऐसे मनाएं माता रानी को

मां दुर्गा की गुप्त शक्तियों की आराधना का पर्व गुप्त नवरात्र है। गुप्त नवरात्र में मां की कृपा प्राप्त करने के लिए बहुत से उपाय किए जाते हैं। मां को प्रसन्न करने के लिए वास्तु में भी कुछ आसान से उपाय बताए गए हैं। आइये जानते हैं इनके बारे में।

गुप्त नवरात्र के नौ दिनों में मां दुर्गा के नौ स्वरूपों के बजाय दस महाविद्याओं की पूजा की जाती है। इस व्रत में मां दुर्गा की पूजा देर रात की जाती है। गुप्त नवरात्र में सरसों के तेल से ही दीपक जलाएं। माना जाता है कि गुप्त नवरात्र में मां दुर्गा से गुप्त रूप से मनोकामना मानी जाती है और मां अपने भक्तों की मनोकामना को अवश्य पूर्ण करती हैं। गुप्त नवरात्र में खानपान और विचार सात्‍व‍िक रखें। शाम के समय किसी भी लाल आसन पर बैठकर दुर्गा सप्तशती का पाठ करें। पाठ पूरा होने के बाद मां को मिष्ठान का भोग लगाकर छोटी कन्याओं को बांटे। नवरात्र में माता को शहद का भोग लगाने से सुंदर रूप प्राप्त होता है और व्यक्तित्व में तेज प्रकट होता है। श्रद्धा और सामर्थ्य के अनुसार दान करें। छोटी कन्याओं को उपहार अवश्य दें। माता पिता, बहन-भाई और पत्नी को भी उपहार दें। घर आया कोई भी अतिथि भूखा न जाए। गुप्त नवरात्र में देवी मां को प्रसन्न करने के लिए घर के मुख्य द्वार की साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखें। घर के मुख्य द्वार पर ॐ का चिह्न बनाएं। ऐसा करने से घर से बीमारियां दूर हो जाती हैं।

इस आलेख में दी गई जानकारियां धार्मिक आस्थाओं और लौकिक मान्यताओं पर आधारित हैं, जिसे मात्र सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर प्रस्तुत किया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Gupta Navaratri
Astro Buddy