grah parivartan: Jupiter changed direction and came in dhanu rashi know effect on Zodiac Signs Taurus Gemini Cancer Virgo Scorpio Sagittarius Aquarius Pisces - 12 वर्षों बाद बृहस्पति अपनी राशि धनु में, जानें किस राशि पर क्या होगा असर DA Image
20 फरवरी, 2020|7:43|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

12 वर्षों बाद बृहस्पति अपनी राशि धनु में, जानें किस राशि पर क्या होगा असर

grah parivartan  jupiter changed direction

सौरमंडल के सबसे बड़े और शुभ ग्रह गुरु बृहस्पति लगभग बारह वर्षों के बाद अपने घर धनु राशि में आ गए हैं। उनका राशि परिवर्तन वृश्चिक राशि से धनु में हुआ है। वे धनु राशि में तेरह महीने रहेंगे।  देवों के गुरु बृहस्पति के राशि परिवर्तन को ज्योतिष की दुनिया की बड़ी घटना मानी जा रही है। इस बदलाव का असर देश,समाज और आमजनों पर पड़ने की संभावना है। 

गुरु 20 नवंबर 2020 तक रहेंगे धनु में 
ज्योतिषी पीके युग के मुताबिक गुरु बृहस्पति सोमवार की मध्य रात्रि से अपनी राशि धनु में चले गए हैं। वे 20नवंबर 2020 ईस्वी तक अपनी राशि धनु में रहेंगे। गुरु की अपनी राशि धनु और मीन है। इसमें धनु गुरु की मूल त्रिकोण राशि होती है। वहीं गुरु कर्क राशि में ऊच्च के और मकर राशि में नीच के होते हैं। गुरु की धनु की तेरह महीनों की  यात्रा में तीन नक्षत्रों मूल ,उत्तराषाढ़ा एवं पूर्वाषाढ़ा नक्षत्र में संचरण करेंगे। ये केतु,शुक्र और सूर्य के नक्षत्र हैं। 

धनु में गुरु का साथ शनि और केतु से 
धनु राशि में शनि और केतु पहले से ही बैठे हैं। धनु में गुरु और शनि का साथ 24 जनवरी2020 तक रहेगा। फिर 24 जनवरी से शनि अपने घर मकर में चले जाएंगे। 

सभी  राशियों पर दिखेगा सकारात्मक प्रभाव 
गुरु का गोचर चंद्र राशि से द्वितीय,पंचम,सप्तम,नवम और एकादश भाव में शुभ माना जाता है। पर गुरु की अपनी मूल त्रिकोण राशि धनु में राशि परिवर्तन से तकरीबन सभी राशियों को कमोबेश सकारात्मक परिणाम देखने को मिलेगा। 

देश का वर्चस्व बढ़ेगा 
ज्योतिषी युग के मुताबिक गुरु का राशि परिवर्तन से शिक्षा जगत में सकारात्मक सुधार दिखेगा। शिक्षा नीति,विदेश नीति और समीपवर्ती देशों पर देश का वर्चस्व बढ़ेगा। 

गुरु रहेंगे वक्री 
गुरु धनु की इस यात्रा के दौरान 14 मई से 13 सितंबर तर  वक्री रहेंगे। 

इन पर दिखेगा सकारात्मक प्रभाव
शिक्षा जगत,सोना-चांदी, जमीन जायदाद,धार्मिक आस्था व सेंसेक्स

गुरु के राशि परिवर्तन और शुभ फल के लिए करें जाप
ओम गुरुवे नम:,विष्णु सहस्त्रनाम,

यह करें
-गुरुवार को केले के पेड़ में जल डालें
-गरीब बच्चों को पाठ्य सामग्री दान दें 
-गुरुओं और बुजुर्गों को सम्मान दें 

संतान, समृद्धि कारक ग्रह हैं बृहस्पति
देवगुरु बृहस्पति धन, ज्ञान, स्त्री का सौभाग्य, संतान, समृद्धि, शिक्षा, श्रद्धा,धार्मिक कार्य, राजकीय सम्मान के कारक ग्रह हैं। 

विभिन्न राशियों पर प्रभाव:-

मेष: धन प्राप्ति,सम्मान,धार्मिक रुचि

वृष: स्थान परिवर्तन,पेट विकार

मिथुन: विवाह के योग,व्यापार में विस्तार

कर्क:आय वृद्धि ,कर्ज से मुक्ति

सिंह: नौकरी का योग,शिक्षा में सुधार

कन्या: भूमि-वाहन योग,प्रोन्नति

तुला:पराक्रम वृद्धि,बड़े भाई से लाभ

वृश्चिक: धन,कुटुंब वृद्धि,धार्मिकयात्रा

धनु: पुत्र-पत्नी सुख,शारीरिक आरोग्यता

मकर: वाहन सुख,विदेश यात्रा,शत्रु शमन

कुंभ: सर्वार्थ सिद्धि,अध्यात्म में रुचि

मीन: प्रोन्नति,सरकार से सहयोग ,स्थायी संपत्ति वृद्धि
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:grah parivartan: Jupiter changed direction and came in dhanu rashi know effect on Zodiac Signs Taurus Gemini Cancer Virgo Scorpio Sagittarius Aquarius Pisces