DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Good friday : आज ‘Maundy Thursday, कल मनाया जाएगा ‘गुड फ्राइडे’

 satish bate ht photo  mumbai church

Maundy Thursday डे पर गिरजाघरों में गुरुवार को विशेष प्रार्थना होगी। इस दिन बुजुर्गों के पैर धोए जाते हैं। अगले दिन ‘गुड फ्राइडे’ मनाया जाएगा। इस दिन प्रभु यीशू को सूली पर चढ़ाया गया था। गुरुवार को गिरजाघरों में विशेष प्रार्थनाएं होंगी और गिरजाघरों में पादरी बुजुर्गों के पैर धोएंगे।  ऐसा कहा जाता है कि Maundy Thursday के दिन प्रभु यीशू ने अनुयायियों के पैर धोए थे।

कई गिरजाघरों में रात भर प्रार्थना होगी। अगले दिन शुक्रवार को प्रभु यीशू के सूली पर चढ़ाए जाने का दिन ‘गुड फ्राइडे’ पाकीजगी और श्रद्धा के साथ मनाया जाएगा। कई जगह इसे ब्लैक डे और ग्रेट फ्राइडे भी कहा जाता है। ऐसा कहा जाता है कि प्रभु यीशु की मृत्यु के बाद उन्होंने दोबारा जन्म लिया था जिस कारण से इस दिन को गुड फ्राइडे कहा जाता है। गुड फ्राइडे के दिन लोग चर्च में घंटे नहीं बजाते है बल्कि इस दिन विशेष प्रार्थना की जाती है और लकड़ी के खटखटे से आवाज की जाती है।

प्रभु  यीशु के बलिदान दिवस पर मसीही लोगों ने उपवास भी रखा। चर्चों में प्रर्थाना की और उनकी बलिदान गाथा को सुने।  वैसे वे उनके पुनर्रूद्धार के 40 दिन पहले से ही उपवास रखते हैं और गलत कार्यों से परहेज करते हैं। इसके साथ ही उनका उपसास खत्म हुआ।  

 गुड फ्राइडे के तीसरे दिन प्रभु यीशू के जी उठने पर ईस्टर मनाया जाता है। ईस्टर मून फेज के आधार पर मनाया जाता है जो क्रिश्यन चर्च द्वारा स्थापित किया गया है। फुल मून के बाद पहले संडे को ईस्टर मनाया जाता है। इस दिन लोग चर्च में मोमबत्तियां जलाकर प्रभु यीशु में अपने विश्वास प्रकट करते हैं। यही नहीं इस दिन घर पर मोमबत्तियां सजाते हैं और दोस्तों में इन्हें बांटते भी हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Good Friday: Today is Maundy Thursday Tomorrow will be celebrated Good Friday