DA Image
15 जुलाई, 2020|10:44|IST

अगली स्टोरी

Ganga Dussehra: नवपंचम और भद्रयोग में गंगा दशहरा आज , गंगा स्नान व दान का शुभ मूहूर्त

surya dev

गंगा का धरती पर अवतरण दिवस ज्येष्ठ शुक्ल दशमी 1 जून को है। धार्मिक ग्रंथों में गंगा दशहरा का आध्यात्मिक व धार्मिक महत्व बताया गया है। इस दिवस पर गंगा स्नान व दान का खास महत्व है। गंगा स्नान से दस तरह के पापोंं से मुक्ति की भी बात धर्मग्रंथों में कही गयी है। मान्यता है कि इसी दिवस पर रामेश्वरम में भगवान श्रीराम ने शिवलिंग की स्थापना की थी।

ज्योतिषाचार्य पीके युग ने बताया कि ज्येष्ठ शुक्ल दशमी सोमवार को नवपंचम योग और भद्रयोग का संयोग बन रहा है। चंद्रमा से दशम भाव में बुध स्वराशि मिथुन में रहेंगे, जिससे भद्रयोग बनेगा। वहीं गुरु व चंद्रमा का नवपंचम योग भी बनेगा। लॉकडाउन की स्थिति में घर में ही गंगा मिश्रित जल से स्नान करना ठीक रहेगा। आचार्य बिपेंद्र झा माधव ने बताया कि गंगा दशहरा पर गंगा या किसी पवित्र नदी में स्नान व दान करने से 10 तरह के पापों का नाश होता है।

 
गंगा स्नान व दान का शुभ मूहूर्त ’ प्रात:काल से दोपहर 2.37 बजे तक ’ साधु स्नान : सुबह 04.13 बजे से 05.23 बजे तक ’ शाही स्नान : सुबह 05 :33 बजे से 06 :40 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Ganga Dussehra: Ganga Dussehra today in Navapancham and Bhadrayoga