Hindi Newsधर्म न्यूज़Ekadashi: Do 5 Upay on Devuthani Ekadashi luck will shine with the grace of Lord Vishnu

देवउठनी एकादशी पर करें ये 5 काम, विष्णु जी की कृपा से होगी धन वर्षा, आएगी समृद्धि

Ekadashi Kartik 2023: कार्तिक महीने में देवउठनी एकादशी मनाई जाती है, जिस दिन विष्णु जी निद्रा से जागते हैं। देवउठनी एकादशी के दिन कुछ उपायों को करने से आर्थिक मुश्किलें समाप्त हो सकती हैं।

Shrishti Chaubey लाइव हिंदुस्तान, नई दिल्लीThu, 23 Nov 2023 10:33 AM
हमें फॉलो करें

Dev Uthani Ekadashi 2023: देवउठनी एकादशी भगवान विष्णु को समर्पित है। हर साल कार्तिक महीने के शुक्ल पक्ष की एकादशी को ही देवउठनी एकादशी के रूप में मनाते हैं। एकादशी के दिन पूरी श्रद्धा के साथ भगवान विष्णु की उपासना करने से जीवन के सभी दुख दर्द दूर हो जाते हैं। वहीं, देवउठनी एकादशी पर मान्यता है कि भगवान विष्णु 4 महीने के बाद नींद से जाग जाते हैं और संसार को चलाने का जिम्मा फिर से उठाते हैं। देवउठनी एकादशी के दिन कुछ उपायों को करने से आर्थिक दिक्कतों को दूर करने के साथ जीवन में कामयाबी का रास्ता भी खुल सकता है।

देवउठनी एकादशी उपाय 
1- देवउठनी एकादशी पर दान पुण्य करने का विशेष महत्व माना जाता है। इसलिए अपने जीवन की सभी मुश्किलों को दूर करने के लिए देवउठनी एकादशी के दिन किसी गरीब या जरूरतमंद को भोजन कराएं।

2- देवउठनी एकादशी के दिन भगवान श्री हरि विष्णु का केसर वाले दूध से अभिषेक करें। ऐसा करने से आपके करियर लाइफ में आ रही मुश्किलें दूर होंगी और आपको अपनी प्रतिभा चमकने के नए अवसर भी मिलेंगे।

3- छात्रों के लिए एकादशी के दिन श्रीमद् भागवत कथा का पाठ जरूर करना बेहद शुभ माना जाता है।

4- अगर आप आर्थिक दिक्कतों से परेशान हैं तो देवउठनी एकादशी के दिन प्रातः काल स्नान करके ब्रह्म मुहूर्त में भगवान श्री हरि विष्णु की पूरी श्रद्धा के साथ पूजा करें और एक पान के पत्ते में ॐ विष्णवे नमः लिखकर भगवान के चरणों में अर्पित करें। अगले दिन इस पत्ते को पीले रंग के कपड़े में लपेटकर तिजोरी में रख दें।

5- अगर आपके वैवाहिक जीवन में कड़वाहट आ गई है और दिन-ब-दिन रोज तू तू मैं मैं की स्थिति बनी रहती है तो देवउठनी एकादशी के दिन तुलसी विवाह पूजन करें। इस दिन लक्ष्मी माता और तुलसी माता को श्रृंगार की सामग्री अर्पित करें।

6- देवउठनी एकादशी के दिन पीपल के पेड़ के नीचे घी का दीपक जलाने और परिक्रमा करने से भगवान विष्णु के साथ-साथ मां लक्ष्मी का आशीर्वाद भी मिलता है। ऐसा करने से घर की दरिद्रता दूर हो सकती है।

डिस्क्लेमर: इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य एवं सटीक हैं। विस्तृत और अधिक जानकारी के लिए संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

ऐप पर पढ़ें