DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Dussehra: 2018: हर तरफ दशहरे की धूम, यह है रावण दहन का शुभ मुहूर्त

dussehra, importance of dussehra, dussehra 2018 date in india

आश्विन मास की शुक्ल पक्ष की दशमी को मनाया जाता है बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक है दशहरा पर्व। यह आज (19 अक्टूबर) मनाया जाएगा। भगवान राम के रावण का वध करने और असत्य पर सत्य की विजय के खुशी में इस पर्व को मनाया जाता है। इस दिन जगह जगह रावण दहन किया जाता है। कहा जाता है कि रावण के पुतले को जला हर इंसान अपने अंदर के अहंकार, क्रोध का नाश करता है। इस दिन मां दुर्गा की प्रतिमाओं का विसर्जन भी किया जाता है।

बैकुंठपुर में सात दिवसीय दशहरा महोत्सव हुआ शुरू

शुभ मुहूर्त

विजयदशमी पूजन का मुहूर्त
08:20 से 10:30 बजे तक लग्न पूजन
11:24 से 12:32 बजे तक अभिजीत मूहूर्त
दहन का शुभ मुहूर्त:-  शुक्रवार को दोपहर 2.57 बजे से शाम 4.17 बजे 

ऐसी मान्यता है कि रावण का वध करने कुछ दिन पहले भगवान राम ने आदि शक्ति मां दुर्गा की पूजा की और फिर उनसे आशीर्वाद मिलने के बाद दशमी को रावण का अंत कर दिया। ऐसी भी मान्यता है कि दशमी को ही मां दुर्गा ने महिषासुर नामक राक्षस का वध किया था। इसलिए इसे विजयादश्‍ामी के रूप में मनाया जाता है।

Dussehra 2018: शत्रु विजय का पर्व है दशहरा

देशभर में अलग-अलग जगह रावण दहन होता है और हर जगह की परंपराएं बिल्कुल अलग हैं। इस दिन शस्त्रों की पूजा भी की जाती है। इस दिन शमी के पेड़ की पूजा भी की जाती है। इस दिन वाहन, इलेक्ट्रॉनिक्स आइटम, सोना, आभूषण नए वस्त्र इत्यादि खरीदना शुभ होता है। दशहरे के दिन नीलकंठ भगवान के दर्शन करना अति शुभ माना जाता है।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Dussehra: 2018: Dussehra on 18th October this is the shubh muhurat of ravana dahan
Astro Buddy