DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ड्राइंग रूम में लगी तस्वीरें बदल देती हैं घर की स्थिति, जानें कैसे करनी चाहिए सजावट

घर में बने स्वागत कक्ष के नाम में समय के साथ बदलाव आया है। इसके पहले बैठक कक्ष के नाम से जाना जाता था। इसके बाद इंग्लिश से आये नामों का इस्तेमाल किया जाने लगा। अब लोग इसे आमतौर पर लिविंग रूम या ड्राइंग रूम भी कहते हैं। इसके अलावा जहां मेहमानों को ठहराया जाता है उसे गेस्ट रूम या अतिथि कक्ष कहते हैं। दरअसल ड्राइंग रूम विचारों को दर्शाता है। इसलिए ड्राइंड रूम की सजावट काफी सोच समझकर करनी चाहिए। आइये समझते हैं कि लिविंग रूम में किस तरह की तस्वीरे लगानी चाहिए...

बैठक कक्ष में हमेशा सकारात्मक तस्वीरें लगानी चाहिए। इस रूम में हंस की बड़ी तस्वीर लगाने से धन की अपार प्राप्ति होती है। इससे सुख और समृद्धि भी आते हैं। घरेलू झगड़ों से बचने के लिए हंसते-मुस्कुराते परिवार की तस्वीर लगाई जा सकती है। लिविंग रूम में घोड़ों की तस्वीर भी लगाई जा सकती है। यहां कुछ लोग मछलियों की तस्वीर लगाना भी पसंद करते हैं। लिविंग रूम की पूर्वी दीवार पर उगते हुए सूरज या फूलों तस्वीर लगाई जा सकती है। 

सोये हुए भाग्य को जगा देगा सोने का सही इस्तेमाल, पढ़ें क्या हो सकता है फायदा

अब जानते हैं कि किस तरह तस्वीरों का इस्तेमाल नहीं किया जाना चाहिए। दरअसल लिविंग रूम में नकारात्मक तस्वीरों को लगाना ठीक नहीं है। इसका घर-परिवार पर बुरा असर पड़ता है। यहां ताजमहल या किसी कांटेदार पौधे की तस्वीर बिल्कुल भी नहीं लगानी चाहिए। इसके अलावा रोते हुए या नंगे बच्चे, युध्द के दृश्य लगाने से भी बचना चाहिए। इसके अलावा खुद की बड़ी तस्वीर भी नहीं लगानी चाहिए. इससे देखने वाला कम अच्छा समझेगा।


इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य व सटीक हैं तथा इन्हें अपनाने से अपेक्षित परिणाम मिलेगा। ये मान्यताओं पर आधारित हैं। इन्हें अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:drawing room decoration ideas positive impact
Astro Buddy