ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News AstrologyDo these 7 Upay on Vaishakh Amavasya you will become rich by the grace of Goddess Lakshmi

वैशाख अमावस्या पर करें 7 उपाय, मां लक्ष्मी की कृपा से बन जाएंगे धनवान

Amavasya Upay: मई महीने की अमावस्या 2 दिन बाद है। अमावस्या पर माँ लक्ष्मी की पूजा-अर्चना करना शुभ माना जाता है। मई की अमावस्या के दिन कुछ उपाय करने से पैसों की कंगाली से राहत मिल सकती है।

वैशाख अमावस्या पर करें 7 उपाय, मां लक्ष्मी की कृपा से बन जाएंगे धनवान
Shrishti Chaubeyलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 08 May 2024 02:33 AM
ऐप पर पढ़ें

Vaishakh Amavasya Upay: 8 मई को रखा जाएगा वैशाख अमावस्या का व्रत। ज्योतिष विद्या में वैशाख अमावस्या विशेष महत्व रखती है। वहीं, मई महीने की अमावस्या को वैशाख अमावस्या के नाम से जाना जाता है। वैशाख अमावस्या के दिन कुछ उपाय करने से आर्थिक स्थिति को सुधारा जा सकता है। इसलिए अगर आप भी दरिद्रता के शिकार हैं तो मां लक्ष्मी का आशीर्वाद पाने के लिए वैशाख अमावस्या पर जरूर करें ये उपाय-

बुध करेंगे मिथुन राशि में प्रवेश, इन राशियों का खुलेगा बंद किस्मत का ताला

वैशाख अमावस्या उपाय 

  • वैशाख अमावस्या के दिन घर के ईशानकोण में घी का दीपक जलाएं। ध्यान रखें की ये दीपक सूर्योदय से लेकर सूर्यास्त तक जलता रहे।
  • माता लक्ष्मी की कृपा पाने के लिए सुबह पीपल के पेड़ में जल अर्पित करें।
  • अमावस्या के दिन घी के दीपक में केसर और लौंग के 2 दाने डालकर जलाने से माता लक्ष्मी को प्रसन्न करने और आर्थिक तंगी दूर करने में मदद मिलती है।
  • अपनी आर्थिक स्थितियों को मजबूत बनाने के लिए इस दिन 108 बार तुलसी की माला से गायत्री मंत्र का जाप करें। 
  • शाम के वक्त तिल के तेल का दीपक पीपल के पेड़ के नीचे जलाएं और परिक्रमा भी करें।
  • अपने घर की नकारात्मकता को दूर भागने के लिए पानी में नमक मिलाकर पोछा लगाएं या साफ-सफाई करें। 
  • अमावस्या के दिन घर की सुख-शांति को बनाए रखने के लिए गाय की सेवा करें। इस दिन पशुओं को भूलकर भी परेशान नहीं करना चाहिए।

आने वाले 376 दिन इन राशियों के लिए वरदान समान, Rahu की उलटी चाल करेगी कमाल

करें ये काम 
पितरों को खुश करने और पितृ दोष से राहत पाने के लिए अमावस्या का दिन बेहद महत्वपूर्ण माना जाता है। इसलिए इस दिन दान-पुण्य और श्राद्ध कर्म करने से पितरों को खुश किया जा सकता है। इसलिए किसी गरीब को वस्त्र, फल आदि दान करें। वहीं, सूर्यास्त होने के बाद दक्षिण दिशा में सरसों के तेल में काला तिल डालकर दीपक जलाएं। इस दिन पितृ स्तोत्र और पितृ कवच का पाठ करने से पितरों का आशीर्वाद मिल सकता है। 

डिस्क्लेमर: इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य एवं सटीक हैं। विस्तृत और अधिक जानकारी के लिए संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।