ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News AstrologyDiwali Lakshmi Puja Vidhi When to light lamp in front of maa Lakshmi worship ancestors know what upaay please Goddess Lakshmi

Diwali Maa lakshmi: दिवाली पर इस तरह आपके घर आएंगी मां लक्ष्मी

Diwali maa lakshmi Dhan upaay: प्रत्येक चतुर्थी तिथि को गणेश स्तोत्र, मंगलवार को हनुमान चालीसा, एकादशी/पूर्णिमा को विष्णु सहस्त्रनाम और शुक्रवार को वैभव लक्ष्मी का पाठ कर धन की कमी दूर कर सकते हैं।

Diwali Maa lakshmi: दिवाली पर इस तरह आपके घर आएंगी मां लक्ष्मी
Anuradha Pandeyसमीर उपाध्याय ज्योतिर्विद,नई दिल्लीTue, 07 Nov 2023 07:52 AM
ऐप पर पढ़ें

धन सभी कार्यों को संपन्न करने का माध्यम है। इसलिए हर किसी का धन के प्रति आकर्षण स्वाभाविक है। माता लक्ष्मी को धन की देवी कहा गया है। मां लक्ष्मी को प्रसन्न किए बिना धन की प्राप्ति नहीं हो सकती। ध्यान रहे मां लक्ष्मी का आह्वान भगवान विष्णु के साथ करना ही शुभ फलदायी होता है। इस दिवाली पर धन की देवी मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए इन उपायों को किया जा सकता है।

दीपावली के दिन संध्या काल में प्रदोषकाल, स्थिर लग्न—वृष में मां लक्ष्मी के सामने घी का दीपक जलाएं। पंचामृत एवं लड्डू का भोग तथा कमल पुष्प अर्पित कर ‘ॐ श्रीं ह्रीं श्रीं कमले कमलालये प्रसीद प्रसीद श्रीं ह्रीं श्रीं ॐ महालक्ष्म्यै नम।’ मंत्र का कम-से-कम 108 बार जाप और आरती करें।

दीपावली के दिन संध्या प्रदोष काल, वृष लग्न या मध्यरात्रि निशीथ काल, सिंह लग्न में पीपल के पेड़ के नीचे घी का दीपक जलाकर पितरों, देवी-देवताओं से आर्थिक लाभ की प्रार्थना करें और लौटते वक्त पीछे मुड़कर दीपक को नहीं देखें।

इस दीपावली से प्रत्येक अमावस्या तिथि को पूर्वजों के नाम पर कुछ सफेद खाद्य पदार्थ जरूरतमंदों को दान करने और साल में दो बार मंगलवार के दिन रक्तदान से धन की कमी दूर होगी।

● ‘श्रीमद्भगवद गीता’ के तीसरे अध्याय में से गजेंद्र मोक्ष स्तोत्र का श्रावण/पाठ करने से धन की समस्या से छुटकारा मिलता है।

● घर तथा व्यावसायिक स्थल के ईशान (उत्तर-पूर्व) कोण की जगह सदैव साफ-सुथरा रखें और वहां पूजा-स्थल अवश्य बनाएं।

● प्रत्येक चतुर्थी तिथि को गणेश स्तोत्र, मंगलवार को हनुमान चालीसा, एकादशी/पूर्णिमा को विष्णु सहस्त्रनाम और शुक्रवार को वैभव लक्ष्मी का पाठ कर धन की कमी दूर कर सकते हैं।

● प्रत्येक दिन—

ऊँ आर्द्रा पुष्करिणीं पुष्टिं पिंगला पद्म मालिनीम्।

चन्द्रां हिरण्मयीं लक्ष्मी जातवेदो मम आवह।।

मंत्र के 108 जाप करने से मां लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें