DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Diwali 2018: क्या आपको पता है कि दिवाली पर किन रूपों में आपके घर आती है मां लक्ष्मी

lakshmi

आरोग्य दिवाली पर लक्ष्मी जी अपने आठ स्वरूपों के साथ आती हैं। महालक्ष्मी ( कन्या), धन लक्ष्मी ( धन, वैभव, निवेश, अर्थव्यवस्था), धान्य लक्ष्मी ( अन्न), गज लक्ष्मी ( पशु और प्राकृतिक धन), सनातना लक्ष्मी( सौभाग्य, स्वास्थ्य, आयु और समृद्धि), वीरा लक्ष्मी ( वीरोचित लक्ष्मी), विजया लक्ष्मी ( विजय), विद्या लक्ष्मी ( विद्या, ज्ञान, कला, विज्ञान)। इन आठों स्वरूपों का एकाकार पर्व ही दीपावली महापर्व के रूप में ख्यात हुआ। यह प्रकाश पर्व पुष्टि, प्रगति और परोपकार का प्रतीक है।

Diwali 2018: इस लग्न में करें दिवाली पूजन, लक्ष्मी जी ठहरेंगी आपके द्वार

यही नहीं, दीप पर्व वित्तीय समायोजन, वित्तीय संयोजन और वित्तीय अनुशासन का भी पर्व है। धन है लेकिन खर्च करने का विवेक और बुद्धि कौशल नहीं तो बेकार है। जो भविष्य का ध्यान नहीं रखे, वह धन भी बेकार है। दीप पर्व के माध्यम से देवी पग-पग पर यही समझाती हैं कि मेरा स्वभाव चंचल है। इसलिए, सकारात्मक दृष्टि से मेरा उपयोग करें। अपने अंदर सकारात्मक प्रकाश करें। अपने अंत: बाह्य दोनों रूपों में प्रकाश करें। 

Rangoli 2018: दिवाली के मुख्य द्वार पर बनाएं ये मोर के रंगोली डिजाइन, मां लक्ष्मी होंगी प्रसन्न

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Diwali 2018: Do you know which forms on Diwali Maa Lakshmi comes to your home
Astro Buddy