ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News AstrologyDhanteras kab haiWhen is Dhanteras 2023 Exact date shubh Choghadiya Muhurta sthir lagna muhurat everything

Dhanteras Date and time: धनतेरस आज, खरीददारी चौघड़िया मुहूर्त,पूजा के स्थिर लग्न मुहूर्त, शुक्रवार को ही खरीदारी श्रेष्ठ फलप्रदायक, जानकारियां

When is Dhanteras 2023 :समुद्र मंथन के समय कलश के साथ माता लक्ष्मी का अवतरण हुआ उसी के प्रतीक के रूप में ऐश्वर्य वृद्धि ,सौभाग्य वृद्धि ,धन वृद्धि के लिए बर्तन खरीदने की परम्परा प्रारम्भ हुई ।

Dhanteras Date and time: धनतेरस आज, खरीददारी चौघड़िया मुहूर्त,पूजा के स्थिर लग्न मुहूर्त, शुक्रवार को ही खरीदारी श्रेष्ठ फलप्रदायक, जानकारियां
Anuradha Pandeyज्योतिर्विद पं दिवाकर त्रिपाठी,नई दिल्लीFri, 10 Nov 2023 05:22 PM
ऐप पर पढ़ें

Dhanteras Date and time: 10 नवम्बर दिन शुक्रवार से आरंभ होकर दीपोत्सव का महापर्व शुरू होगा। प्रदोष व्यापिनी त्रयोदशी तिथि में धनतेरस 10 नवंबर 2023 दिन शुक्रवार को मनाया जाएगा। इस दिन गृहोपयोगी सामान खरीदने की प्राचीन परम्परा है। ऐसी मान्यता है कि समुद्र मंथन के समय कलश के साथ माता लक्ष्मी का अवतरण हुआ उसी के प्रतीक के रूप में ऐश्वर्य वृद्धि ,सौभाग्य वृद्धि ,धन वृद्धि के लिए बर्तन खरीदने की परम्परा प्रारम्भ हुई । साथ ही आयुर्वेद के प्रवर्तक धन्वन्तरि महाराज के जन्म दिवस के आधार पर भी यह तिथि प्रचलित है।भगवान धन्वन्तरि का जन्म इसी दिन प्रदोष बेला अर्थात प्रदोष काल में हुआ था इसी कारण प्रदोष व्यापिनी त्रयोदशी में ही धनतेरस का पावन पर्व मनाया जाता है।

धनतेरस पर क्या खरीदें
धनतेरस (धन्वन्तरी जयन्ती ) के दिन हर्षोल्लास के साथ माता लक्ष्मी का पूजा कर इलेक्ट्रॉनिक उपकरण, वाहन, सोना, चांदी, रत्न, आभूषण एवं बर्तन आदि की खरीददारी कर घर लाना अति शुभफल दायक होता है। इस कारण ही इस दिन स्थिर लग्न अथवा प्रदोष कालीन स्थिर लग्न में बर्तन आदि सहित कोई भी धातु खरीदना शुभफल दायक होता है। विशेषकर इस मुहूर्त्त में धातु या मिट्टी का कलश अवश्य खरीदना चाहिए ।

धनतेरस कब मनाना सही
इस वर्ष त्रयोदशी तिथि का मान 10 नवम्बर 2023 दिन शुक्रवार को दिन में 11:47 बजे से आरम्भ होगा जो 11 नवंबर 2023 दिन शनिवार को दिन में 1:13 तक व्याप्त रहेगा । वैसे तो धनतेरस 11 नवंबर को भी मनाया जा सकता है परंतु शनिवार के दिन धातु के बर्तन अथवा लोहे के बर्तन की खरीदारी शुभ दायक नहीं होती है। इस कारण से गृहोपयोगी सामान तथा बर्तन आदि की खरीदारी प्रदोष व्यापिनी त्रयोदशी तिथि 10 नवंबर 2023 दिन शुक्रवार को स्थिर लग्न में खरीदना श्रेयस्कर होगा। त्रयोदशी तिथि का आरंभ दिन में 11:47 से आरंभ होने के कारण एवं सायं काल प्रदोष काल में त्रयोदशी विद्यमान होने से धनतेरस और धन्वंतरि जयंती 10 नवम्बर के दिन स्थिर लग्न एवं शुभ चौघड़िया जैसे शुभ मुहूर्त में की गई खरीदारी शुभ फल प्रदायक होगी । 

धन तेरस पर धन त्रयोदशी तिथि में स्थिर लग्न :- 
(1)- 10 नवम्बर दिन शुक्रवार को स्थिर लग्न कुम्भ दिन में 12:49  से 2:20 बजे तक एवं शुभ चौघड़िया।
(2)- 10 नवम्बर दिन शुक्रवार को स्थिर लग्न वृष 5:26 से 7:23 बजे तक ।
(3)- 10 नवम्बर दिन शुक्रवार को स्थिर लग्न सिंह रात में 11:55 से 2:08 बजे तक ।

खरीदारी हेतु 10 नवंबर को शुभ चौघड़िया समय :- 
(1) दिन में 12:00 से 01:25 बजे तक शुभ
(2) सायं में 04:09 से 05:29 बजे तक चर 
(3) रात में 08:45 से 10:23 बजे तक लाभ
(4) रात में 12:00 से 01:40 बजे तक शुभ
(5) रात में 01:40 से 03:18 बजे तक अमृत
(6) भोर में 04:56 से 06:33 बजे तक चर

धनतेरस खरीदारी स्थिर लग्न में अति शुभफल दायक
इस प्रकार त्रयोदशी तिथि में स्थिर लग्न और शुभ चौघड़ियां वस्तुओं की खरीदारी और माता लक्ष्मी का पूजन शुभफल दायी होता है | इस दिन माता लक्ष्मी का पूजन एवं खरीदारी स्थिर लग्न में अति शुभफल दायक होती है। 11 नवंबर 2023 दिन शनिवार को पूजन किया जा सकता है परंतु वस्तुओं की खरीदारी विशेष कर धातु के बर्तनों की खरीदारी करना उचित नहीं होता है इसलिए शुक्रवार को ही खरीदारी कर लिया जाए तो श्रेष्ठ फल प्रदायक होगा।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें