Dhanteras 2019: Dhateras par rashi ke anusaar karein khariddari barsega dhan ye hain dhanteras pooja ke shubh muhurat - Dhanteras 2019: धनतेरस पर राशि के हिसाब से करें खरीददारी, बरसेगा धन, ये हैं तीन शुभ मुहूर्त DA Image
19 नबम्बर, 2019|6:26|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Dhanteras 2019: धनतेरस पर राशि के हिसाब से करें खरीददारी, बरसेगा धन, ये हैं तीन शुभ मुहूर्त

dhanteras- diwali shopping

ज्योतिष विद्वान पंडित राकेश झा शास्त्री का कहना है कि कार्तिक कृष्ण त्रयोदशी तिथि 25 अक्टूबर दिन शुक्रवार को धन की देवी के उत्सव का प्रारंभ हो जाएगा। धनतेरस के दिन प्रदोषकाल में यम को तिल तेल का दीपक घर के बाहर दक्षिण मुख कर रखने से काल-संकट, रोग, शोक, भय, दुर्घटना, मृत्यु से बचा जा सकता है। मान्यता है कि समुद्र मंथन के समय कलश के साथ भगवान धनवंतरि का अवतरण हुआ। उसी प्रतीक में ऐश्वर्य, धन, सौभाग्य, सुख आदि वृद्धि के लिए बर्तन खरीदने की परम्परा है।

नरक चौदस और दीपावली की तिथि को लेकर असमंजस है तो पढ़ लें ये खबर

धनतेरस इस बार 25 अक्टूबर शुक्रवार को प्रदोष त्रयोदशी तिथि में मनाया जाएगा। शुभ मुहूर्त में खरीदारी करने से घर में मां लक्ष्मी का वास होता है। ज्योतिष विद्वानों का मत है कि धनतेरस अबूझ मुहूर्त है। इसी दिन स्वास्थ्य के देवता भगवान धनवंतरि की जयंती भी मनाई जाती है। धनतेरस के दिन शुक्रवार दिन शुक्र प्रदोष भी विद्यमान रहेगा। इसीलिए इस दिन शुक्र प्रदोष और धन त्रयोदशी का महासंयोग बन रहा है। इसके अलावा इस दिन ब्रह्म व सिद्धि योग भी बन रहे हैं। ऐसा महासंयोग शताब्दी वर्षों के बाद दोबारा बन रहा है। इस दिन जो भी शुभ कार्य व खरीदारी की जाए, वह समृद्धिकारक होती है। इस दिन झाड़ू खरीदने की अनोखी परम्परा है। मान्यता है कि इस दिन झाड़ू खरीदने से दरिद्रता दूर होती है। धनतेरस के दिन लक्ष्मी-गणेश की मूर्ति, सोना, चांदी, रत्न आदि की खरीदारी की जाती है ।

पटना। धनतेरस पर आभूषण के साथ नए सामानों की खरीदारी काफी शुभ फलदायक होती है। इस पर यदि राशि के हिसाब से खरीद की जाए तो धन की वर्षा होती है। ज्योतिष विद्वानों का कहना है कि धनतेरस पर नए सामानों की खरीद की परम्परा वर्षों पुरानी है और इस बार काफी अद्भुत संयोग भी बन रहा है, जो जनमानस के लिए शुभ फल देने वाला है।


वृष लग्न- शाम 07:00 से 08:56 बजे तक

राशि के अनुसार करें खरीदारी, होगी भाग्य में वृद्धि

गुली मुहूर्त- सुबह 07:09 से 08:44 बजे तक

अभिजीत मुहूर्त- दोपहर 11:11 से 11 :56 बजे तक

स्थिर लग्न - प्रात: 07:07 से 09:15 बजे तक

मेष - चांदी या तांबा के बर्तन, इलेक्ट्रॉनिक सामान

वृष - चांदी या तांबे के बर्तन

मिथुन - स्वर्ण आभूषण, स्टील के बर्तन, हरे रंग के घरेलू सामान, पर्दा

कर्क - चांदी के आभूषण, बर्तन

सिंह - तांबे के बर्तन, वस्त्र, सोना

कन्या - गणेश की मूर्ति, सोना या चांदी के आभूषण, कलश

तुला- वस्त्र, सौंदर्य या सजावट सामग्री, चांदी या स्टील के बर्तन

वृश्चिक - इलेक्ट्रॉनिक उपकरण, सोने के आभूषण, बर्तन

धनु - स्वर्ण आभूषण, तांबे के बर्तन

मकर - वस्त्र, वाहन, चांदी के बर्तन

कुम्भ - सौंन्दर्य के सामान, स्वर्ण, ताम्र पात्र, जूता-चप्पल

मीन - स्वर्ण आभूषण, बर्तन

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Dhanteras 2019: Dhateras par rashi ke anusaar karein khariddari barsega dhan ye hain dhanteras pooja ke shubh muhurat