DA Image
12 अक्तूबर, 2020|7:29|IST

अगली स्टोरी

पंचांग 1 जुलाई 2020: देवशयनी एकादशी आज, 5 महीने तक नहीं होंगे मांगलिक कार्य

आज का पंचांग

आज हरिशयनी एकादशी व्रत है। आषाढ़ शुक्लपक्ष की एकादशी को मनाई जाने वाली देवशयनी एकादशी आज मनाई जायेगी। ज्योतिषाचार्य एस.एस. नागपाल और ज्योतिषाचार्य आनन्द दुबे ने बताया कि इस दिन भगवान श्री हरि विष्णु क्षीर-सागर में शयन करते है। उन्होंने बताया कि ऐसा भी मत है कि भगवान विष्णु इस दिन से पाताल में राजा बलि के द्वार पर निवास करके कार्तिक शुक्ल एकादशी को लौटते हैं। इन चार माह में मांगालिक कार्य नहीं किये जाते है। चार माह बाद कार्तिक शुक्ल पक्ष प्रबोधिनी एकादशी को योग निद्रा से श्री हरि विष्णु जाग्रत होते हैं। इन चार माह में तपस्वी भ्रमण नहीं करते बल्कि एक ही स्थान पर रहकर तपस्या करते हैं।  

आज के दिन से चातुर्मास शुरू हो जाएगा। 5 माह का चातुर्मास होगा। चार महीने शुभ काम वर्जित रहेंगे। देवशयनी से देवप्रबोधिनी एकादशी के बीच के समय को चातुर्मास कहा जाता है। 

पंढरपुर यात्रा आज से है। शाक त्याग व्रत आरम्भ। सूर्य उत्तरायण। सूर्य उत्तर गोल। वर्षा ऋतु। 

आज राहुकाल का समय मध्याह्न 12 बजे से 1 बज कर 30 मिनट तक रहेगा।

1 जुलाई, बुधवार, 10 आषाढ़ (सौर) शक 1942, 17 आषाढ़ मास प्रविष्टे 2077, 9 जिल्काद सन् हिजरी 1441, आषाढ़ शुक्ल एकादशी सायं 5.30 बजे तक उपरांत द्वादशी, विशाखा नक्षत्र रात्रि 2.34 बजे तक तदनंतर अनुराधा नक्षत्र, सिद्ध योग प्रात: 11.17 बजे तक पश्चात साध्य योग, वणिज करण, चंद्रमा रात्रि 8.56 बजे तक तुला राशि में उपरांत वृश्चिक राशि में।           

पं. वेणीमाधव गोस्वामी 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:devshayani ekadashi 2020 today check today panchang 1 july rahukal timing