ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News AstrologyDev Deepawali 2023 Date And Time when is dev deepawali in november 2023

Dev Deepawali 2023:देव दीपावली कब है? नोट कर लें शुभ मुहूर्त और दीपदान का महत्व

Dev Deepawali 2023 Date And Time: हर साल कार्तिक महीने के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि को देव दीपावली मनाई जाती है। इस साल देव दीपावली की सही डेट को लेकर काफी कनफ्यूजन की स्थिति बनी हुई है।

Dev Deepawali 2023:देव दीपावली कब है? नोट कर लें शुभ मुहूर्त और दीपदान का महत्व
Arti Tripathiलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीTue, 14 Nov 2023 04:45 PM
ऐप पर पढ़ें

Dev Deepawali Date 2023: हर साल कार्तिक महीने में शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि को देव दीपावली मनाई जाती है। पंचांग के अनुसार, इस साल 27 नवंबर को कार्तिक पूर्णिमा पड़ रहा है। इसलिए देव दीपावली इस दिन ही मनाया जाएगा।  देव दीपावली के दिन गंगा स्नान का बड़ा महत्व है। धार्मिक मान्यता है कि कार्तिक पूर्णिमा के दिन देवों के देव महादेव ने त्रिपुरा राक्षस का वध किया था। इस खुशी में देवी-देवता काशी के गंगा घाट पर दिये प्रज्ज्वलित किये थे और दिवाली मनाई थी। आइए जानते हैं कि इस साल देव दीपावली का शुभ मुहूर्त, पूजाविधि और महत्व...

देव दीपावली का शुभ मुहूर्त: हिंदू पंचांग के अनुसार, कार्तिक माह पूर्णिमा तिथि की शुरुआत 26 नवंबर को दोपहर 3 बजकर 53 मिनट पर होगी और 27 नवंबर को दोपहर 2 बजकर 45 मिनट पर समाप्त होगी। ऐसे में उदयातिथि के अनुसार 27 नवंबर को देव दीपावली मनाई जाएगी।

क्यों मनाई जाती है देव दीपावली?

पौराणिक कथाओं के अनुसार, त्रिपरासुर राक्षस ने अपने आतंक से देवी-देवताओं और ऋषि-मुनियों को परेशान कर दिया था। त्रिपुरासुर के अत्याचारों से त्रस्त होकर सभी देवी-देवता और ऋषि-मुनि भगवान भोलेनाथ के शरण में पहुंचे और त्रिपुरासुर राक्षस से मुक्ति दिलाने की विनती करने लगे। इसलिए शिवजी ने त्रिपुरासुर राक्षस का वध कर दिया। इस खुशी काशी में सभी देवी-देवताओं ने आकर खुशी के दीप जलाएं। तब से ही हर साल कार्तिक माह पूर्णिमा तिथि को देव दीपावली मनाने की परंपरा शुरू हुई।

देव दीपावली पर दीपदान का महत्व: देव दीपावली के दिन गंगा स्नान किया जाता है और शाम के समय मिट्टी के दीप जलाए जाते हैं। देव दीपावली कई जगहों पर मनाया जाता है, लेकिन काशी में देव दीपावली का भव्य नजारा देखने को मिलता है। यहां गंगा घाट से लेकर बनारस के सभी मंदिरों में दीप प्रज्ज्वलित किए जाते हैं और बड़े धूमधाम से देव दीपावली मनाया जाता है।

डिस्क्लेमर: इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य है और सटीक है। इन्हें अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें