ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News AstrologyChar Dham Yatra 2024 Baba Kedarnath temple is open for darshan for 20 hours

Char Dham Yatra 2024: बाबा केदार का मंदिर 20 घंटे दर्शन के लिए खुला

Baba Kedarnath temple Char Dham Yatra 2024: भगवान केदारनाथ का मंदिर चौबीस घंटों में बीस घंटे भक्तों के लिए खुला है। इस दौरान तीर्थयात्रियों को धर्म दर्शन के साथ शृंगार, आरती दर्शन के साथ ही विशेष पूजा

Char Dham Yatra 2024: बाबा केदार का मंदिर 20 घंटे दर्शन के लिए खुला
Anuradha Pandeyबद्री नौटियाल,रुद्रप्रयागWed, 22 May 2024 07:34 AM
ऐप पर पढ़ें

भगवान केदारनाथ का मंदिर चौबीस घंटों में बीस घंटे भक्तों के लिए खुला है। इस दौरान तीर्थयात्रियों को धर्म दर्शन के साथ शृंगार, आरती दर्शन के साथ ही विशेष पूजाओं का मौका दिया जा रहा है। केदारनाथ धाम में उमड़ रहे श्रद्धालुओं के दबाव के चलते इस तरह की व्यवस्थाएं की जा रही है।

यात्रा के 11 दिनों में ही 3.19 लाख से अधिक तीर्थयात्रियों ने बाबा केदार के दर्शन किए हैं। अब तक दर्शन करने वाले यात्रियों की संख्या में 20 मई को सर्वाधिक 37,480 रही। केदारनाथ धाम आ रहे यात्रियों के सैलाब को देखते हुए बदरी-केदार मंदिर समिति द्वारा चौबीस घंटों में बीस घंटे मंदिर भक्तों के लिए खुला रखने की व्यवस्था की है। दोपहर में 3 से 5 बजे के दौरान ही मंदिर बंद रहता है। पुन 5 बजे मंदिर को भक्तों के दर्शनार्थ खोल दिया जा रहा है। इस दौरान 5 से 9 बजे रात तक यात्री दर्शन हो रहे हैं। इसी बीच आरती शृंगार दर्शन भी हो रहे हैं। बदरी-केदार मंदिर समिति के कार्याधिकारी आरसी तिवारी ने बताया कि मंदिर समिति द्वारा रात को 15 कर्मी व्यवस्था के लिए मंदिर में तैनात किए गए है।

पहले और अब की व्यवस्था में अंतर बीकेटीसी के सूत्रों के मुताबिक वर्ष 1995 के समय में सुबह 7 बजे मंदिर धर्म दर्शन के लिए खोला जाता रहा था। जबकि भीड़ बढ़ने पर इसके बाद यह समय सुबह 6 बजे हुआ, वर्तमान में सुबह 5 बजे हैं। वहीं पूर्व में विशेष पूजाएं भी रात 1 बजे से शुरू होती थी जबकि वर्तमान में 10 बजे से ही शुरू की जा रही है।

हेली सेवा के श्रद्धालुओं को जल्द दर्शन पर बनी सहमति

केदारनाथ धाम में सभी श्रद्धालुओं को गर्भ गृह में स्पर्श दर्शन की सुविधा मिलनी शुरू हो गई है। इसी के साथ हेली सेवा वालों को जल्द दर्शन कराने का भी विरोध थम गया है। मंगलवार से हेली सेवा वालों को भी जल्द दर्शन की सुविधा फिर से शुरू हुई।