ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ धर्मChandra Grahan 2022: 16 मई को चंद्रग्रहण, 15 को सूर्यदेव की इन राशियों पर रहेगी तिरछी नजर, आप भी जान लें उपाय

Chandra Grahan 2022: 16 मई को चंद्रग्रहण, 15 को सूर्यदेव की इन राशियों पर रहेगी तिरछी नजर, आप भी जान लें उपाय

Lunar Eclipse 2022 in India: ज्योतिष शास्त्र में सूर्य राशि परिवर्तन का विशेष महत्व है। साल का पहले चंद्रग्रहण से ठीक एक दिन पहले सूर्य गोचर हो रहा है। सूर्य गोचर से किन राशि वालों की बढ़ेंगी परेशानी

Chandra Grahan 2022: 16 मई को चंद्रग्रहण, 15 को सूर्यदेव की इन राशियों पर रहेगी तिरछी नजर, आप भी जान लें उपाय
Saumya Tiwariलाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीSun, 15 May 2022 09:19 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/

Chandra Grahan 2022 Upay: चंद्रग्रहण के खगोलीय घटना है, वहीं ज्योतिष में सूर्य राशि परिवर्तन को भी महत्वपूर्ण माना गया है। आने वाले दो दिनों में ये घटनाएं होने वाली हैं। साल का पहला चंद्रग्रहण 16 मई, सोमवार को लगेगा। इसके ठीक एक दिन पहले सूर्य राशि परिवर्तन 15 मई 2022 को होगा। ज्योतिषाचार्य सूर्य के राशि परिवर्तन को बेहद अहम मान रहे हैं। ज्योतिर्विदों के अनुसार, चंद्रग्रहण से ठीक एक दिन पहले इस सूर्य राशि परिवर्तन से मिथुन, तुला और वृश्चिक राशि वालों की परेशानियां बढ़ सकती हैं। जानें इन तीनों राशियों के जातक राशिनुसार उपाय-

साल का पहला चंद्रग्रहण इन राशि वालों को करियर में दिलाएगा तरक्की, क्या आपको भी होगा लाभ?

मिथुन- सूर्य गोचर से मिथुन राशि वालों को परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। ऊर्जा कम हो सकती है। भाई-बहनों के साथ विवाद हो सकता है। आर्थिक परेशानी आ सकती है।

तुला- आर्थिक मोर्चे पर परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। प्रॉपर्टी में निवेश से नुकसान हो सकता है। इस दौरान किसी भी नए काम की शुरुआत न करें।

वृश्चिक- वृश्चिक राशि वालों को अपने गुस्से पर काबू रखना होगा। जीवनसाथी के साथ रिश्ते खराब हो सकते हैं। लंबी यात्रा के योग बन रहे हैं। आर्थिक समस्या हो सकती है।

 चंद्रग्रहण के दिन इन कामों को करने से हो सकता है नुकसान, ज्योतिषाचार्य से जानें क्या करें और क्या नहीं

संबंधित खबरें

करें ये उपाय-

1. सूर्यदेव को प्रसन्न करने के लिए कम से कम 12 रविवार व्रत रखें।
2. रविवार के दिन लाल वस्त्र धारण करने चाहिए।
3. रविवार के दिन नमक का सेवन नहीं करना चाहिए।
4. भोजन में दलिया, दूध, दही, घी और गेहूं की रोटी का सेवन करें।
5. रविवार के दिन सुबह स्नान के बाद जल में लाल चंदन, लाल फूल, अक्षत और दूर्वा आदि मिलाकर सूर्यदेव को अर्पित करें।
6. सूर्यदेव को प्रसन्न करने के लिए लाल व पीले वस्त्रों का दान करना चाहिए।

इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य एवं सटीक हैं। इन्हें अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें। 

 

epaper