DA Image
1 अप्रैल, 2021|1:42|IST

अगली स्टोरी

चाणक्य नीति: केवल इन 4 गुणों से होती है सच्चे व सही इंसान की पहचान, क्या आपमें भी हैं ये गुण

आचार्य चाणक्य ने नीति शास्त्र में व्यक्ति के स्वभाव व गुणों के बारे में बताया है। चाणक्य की नीतियां भले ही अपनाने में कष्ट होता है, लेकिन जिसने भी अपनाया उसका जीवन सुखमय हो सकता है। आज की भाग-दौड़ भरी जिंदगी में चाणक्य की ये नीतियां जीवन की हर कसौटी पर व्यक्ति की मदद करती हैं। अक्सर लोग व्यक्ति की पहचान में गलती कर देते हैं, जिससे उन्हें कष्टों का सामना करना पड़ता हैं। आपके साथ ऐसा न हो इसके लिए पढ़ लें आज की चाणक्य नीति। इस नीति में चाणक्य ने अच्छे व सच्चे व्यक्ति के गुणों के बारे में बताया है।

आचार्य चाणक्य ने चाणक्य नीति के पांचवें अध्याय के दूसरे श्लोक में लिखा है,  
यथा चतुर्भिः कनकं परीक्ष्यते निर्घर्षणं छेदनतापताडनैः।
तथा चतुर्भिः पुरुषं परीक्ष्यते त्यागेन शीलेन गुणेन कर्मणा।।

चाणक्य कहते हैं कि घिसने, काटने, तापने और पीटने। इन चार चीजों से सोने की परख होती है। ठीक उसी तरह से व्यक्ति की पहचान उसके आचरण, उसमें कौन से गुण हैं, त्याग की भावना और कर्म की भावना से होती है।

1. चाणक्य कहते हैं कि अच्छे व सच्चे व्यक्ति में त्याग की भावना होती है। चाणक्य कहते हैं कि जो व्यक्ति दूसरों के सुख के लिए कुछ नहीं कर सकता, वह भला इंसान नहीं हो सकता है। दूसरों की खुशियों के लिए अपनी खुशियों का त्याग करने वाला व्यक्ति ही अच्छा इंसान माना जाता है।

चाणक्य नीति: इन 5 लोगों पर भूलकर भी ना करें विश्वास, मुश्किलों में फंस सकते हैं प्राण

2. चाणक्य कहते हैं कि व्यक्ति को परखने में उसका आचरण यानी चरित्र काफी मायने रखता है। नीति शास्त्र के अनुसार, जो व्यक्ति बेदाग व बुराइयों से दूर रहते हैं और दूसरों के लिए गलत भावनाएं नहीं रखते हैं। वह श्रेष्ठ होते हैं।

3.  चाणक्य कहते हैं कि व्यक्ति को परखने के लिए उसमें कौन- से गुण यह भी देखना चाहिए। अगर व्यक्ति ज्यादा गुस्सा करता है, बात-बात पर झूठ बोलता है, अहंकार से भरा है और दूसरों का अपमान करता है। ऐसा व्यक्ति दूसरों का भला नहीं कर सकता है।

4.  चाणक्य कहते हैं कि व्यक्ति किस स्थिति में कुल में जन्मा है और व्यक्ति के कर्म कैसे हैं। इन बातों के आधार पर भी व्यक्ति को परखना चाहिए।

(इस आलेख में दी गई जानकारियां धार्मिक आस्थाओं और लौकिक मान्यताओं पर आधारित हैं, जिसे मात्र सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर प्रस्तुत किया गया है।)

 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Chanakya Niti: It is only through these 4 qualities that the identity of a true and true human according to Chanakya Niti