DA Image
24 अक्तूबर, 2020|10:29|IST

अगली स्टोरी

Chanakya Niti: किस्मत वाले होते हैं ये लोग, मां लक्ष्मी की कृपा से धनवान बनने का रास्ता हो जाता है आसान

आचार्य चाणक्य अर्थशास्त्री होने के साथ ही एक महान शिक्षाविद भी हैं। नीति शास्त्र में आचार्य चाणक्य ने धन, तरक्की, रोजगार, बिजनेस, मान-सम्मान और परिवार से जुड़ी कई समस्याओं का हल बताया है। चाणक्य की नीतियों पर अमल कर पाना आसान नहीं है। लेकिन कहते हैं जो व्यक्ति  चाणक्य नीतियां अपना लेता है, उसे सफल होने से कोई नहीं रोक सकता है। नीति शास्त्र में आचार्य चाणक्य कहते हैं कि कुछ लोग ऐसे में भी होते हैं, जिनके व्यवहार से मां लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं और उनके घर पर वास करती हैं।

1. मेहनत करने वाले- आचार्य चाणक्य कहते हैं कि परिश्रम करने वालों पर मां लक्ष्मी हमेशा अपनी कृपा बनाए रखती हैं। मेहनत करने वाले व्यक्ति अपनी कड़ी लगन से एक समय ऐसे मुकाम पर पहुंच जाते हैं, जहां धन लाभ के योग बनते हैं। चाणक्य कहते हैं कि वो लोग बहुत खास होते हैं, जिन्हें मेहनत करने का सौभाग्य मिलता है। इसलिए धन वर्षा का इंतजार मात्र करने की बजाए परिश्रम करना चाहिए।

हर व्यक्ति को बादलों से सीखना चाहिए पैसों का लेन-देन, कभी नहीं होगी धन हानि

2. जिस घर में स्त्रियां रहती हैं खुश- चाणक्य कहते हैं कि जिन घरों में महिलाएं खुश रहती हैं, उस घर में मां लक्ष्मी की कृपा सदैव बनी रहती है। स्त्रियों में केवल पत्नी ही नहीं मां, बहन, भाभी और घर की अन्य सभी महिलाएं शामिल हैं। नीति शास्त्र के अनुसार, पुरुष को घर की महिलाओं को खुश रखने की कोशिश करनी चाहिए। ऐसा करने से महालक्ष्मी प्रसन्न होती हैं।

3. धर्म-कर्म में रुचि रखने वाले लोग- जिन लोगों की रुचि धर्म-कर्म में ज्यादा होती है। ऐसे लोगों के ऊपर मां लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं। चाणक्य कहते हैं कि धर्म में विश्वास रखने वालों पर भी मां लक्ष्मी की कृपा बरसती है और उनके धनलाभ का योग बनता है।

4. जो नहीं बैठते किस्मत के भरोसे- चाणक्य कहते हैं कि जो लोग अपनी किस्मत के भरोसे नहीं बैठते उनपर मां लक्ष्मी अपनी कृपा बरसाती हैं। चाणक्य का मानना है कि इंसान को धनलाभ के लिए सिर्फ किस्मत के भरोसे नहीं बैठना चाहिए।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Chanakya Niti For Money and Success These 4 Type of people may gets lots of money